आईएएस कैसे बने और इसकी क्या योग्यताएं है ?

IAS kaise bane

आईएएस कैसे बने ( IAS kaise bane ) हर किसी के मन में देश की सेवा बनने के बारे में सोचते है। देश सेवा करने के लिए या तो लोग समाज सेवक बनते है या नेता बनते है या आईएएस बनते है। अगर आप भी आईएएस बनने की सोच रहे है तो आपको हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी दे रहे है। 

अगर आप आईएएस बनने की सोच रहे है तो आईएएस कैसे बने? आईएएस बनने के लिए क्या-क्या पढना होता है? इन सब के बारे में विस्तृत जानकारी देने जा रहे है और साथ ही आपको किन योग्यताओं की जरूरत होती है उनके बारे में पूरी जानकारी देने का प्रयास कर रहे है। अंत इस लेख को अंतिम तक पढ़े ताकि आपको पूरी जानकारी मिल सके।

आईएएस की बने?

हर किसी के मन में आईएएस बनने का सपना होता है। अगर आप भी आईएएस बनने की सोच रहे है तो उसके लिए आपको कम से कम स्नातक पास होना जरुरी होता है। यह पास करने के बाद इसमें आईएएस की परीक्षा देनी होती है जिसके बाद ही आईएएस बना जा सकता है। 

आईएएस बनने के लिए स्नातक की परीक्षा पास करने के बाद आईएएस का एग्जाम देना होता है जो की संघ लोक सेवा आयोग द्वारा करवाया जाता है। 

फील्डआईएएस 
मुख्य विषयविज्ञान, कलां या अन्य
कोर्स की अवधिकम से कम 1 साल
ExamUPSC
वर्क सेक्टर्सकेंद्र सरकार में Bureaucrats की नौकरी 

आईएएस बनने के लिए योग्यता

अगर आपके मन में भी आईएएस बनने का सपना है तो उसके लिए आपके पास इन योग्यताओं का होना जरुरी है। आईएएस बनने के लिए इन योग्यताओं का होना जरुरी है। अगर आईएएस बनने के लिए आपके पास इन योग्यताओं का होना जरुरी है। 

  • आवेदक का भारतीय होना जरुरी है। 
  • कोई भी आवेदक जिसने स्नातक पास किया हो तो वो इस परीक्षा का दे सकते है। 
  • किसी भी विषय में स्नातक होना जरुरी है। 

हालांकि यह योग्यता आईएएस बनने के लिए नही बल्कि UPSC की परीक्षा पास करने के लिए जरुरी है। UPSC की परीक्षा पास करने के बाद आईएएस की ट्रेनिंग होती है जिसके बाद आईएएस की परीक्षा होती है। 

आईएएस बनने के लिए कौनसी परीक्षा पास करना होता है?

IAS बनने के लिए आईएएस से कलेक्टर बनने के लिए UPSC की परीक्षा पास करनी होती है। परन्तु उसके लिए या यूँ कहे की उससे पहले एक कैंडिडेट को Civil Servant की परीक्षा पास करना जरुरी है। अगर युपीएससी की परीक्षा पास करते तो उसके बाद आप Civil Servant के लिए चयनित हो जाते है और उसके बाद 2 साल की IAS की ट्रेनिंग करने के बाद आईएएस बन जाते है। 

आईएएस की परीक्षा कैसे होती है ?

आईएएस बनने के लिए यूपीएससी द्वारा आयोजित सिविल सेवा की परीक्षा को पास पास करना होता है। यह परीक्षा हर साल संघ लोक सेवा आयोग द्वारा करवाई जाती है जिसके तीन स्तर होते है। 

सिविल सेवा परीक्षा में तीन स्तर होते है जिसमे प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और अंतिम चरण होता है साक्षात्कार। इन तीनों परीक्षा को पास करने के बाद ही कोई आवेदक आईएएस के लिए चुना जाता है। 

यह परीक्षा हर साल करवाई जाती है जिसके फॉर्म लगभग फ़रवरी माह में भरवाए जाते है और उसके बाद उसकी प्रारंभिक परीक्षा जून के आसपास होती है और मुख्य परीक्षा अक्टूम्बर के आसपास। इन दोनों परीक्षा को पास करने के बाद अभियार्थी अगले चरण में पहुच जाता है जिसमे उसे साक्षात्कार पास करना होता है। 

साक्षात्कार एक तरह का Personality test होता है। इस परीक्षा को पास करने के बाद कुछ चुनिन्दा अभियार्थियों का चुनाव होता है। इस परीक्षा में चयन होने के बाद कुछ टॉप की रैंक वाले अभियार्थियों को आईएएस की पोस्ट मिलती है। इसके बाद उनकी ट्रेनिंग होती है। ट्रेनिंग के बाद उन्हें इस पोस्ट पर नियुक्त कर दिया जाता है और उन्हें फील्ड पोस्ट पर भेज दिया जाता है।

यह भी पढ़े : आईएएस की सैलरी क्या होती है?

सिविल सेवा की परीक्षा के बाद?

सिविल सेवा की परीक्षा पास करने के बाद अभियार्थियों को ट्रेनिंग के लिए बुलाया जाता है। ट्रेनिंग पूरी करने के दोहरान कई तरह की बातें सिखाई जाती है जिसमे थ्योरी और प्रक्टिकल दोनों होती है। टैनिंग के बाद उन्हें फील्ड पोस्टिंग दे दी जाती है और उसके साथ IAS का Tag भी दे दिया जाता है। 

अंतिम शब्द

इस लेख में आपको आईएएस कैसे बने ( IAS kaise bane ) के बारे में बताया गया है। उम्मीद है आपको यह लेख पसंद आया होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

International Tribal Day : Day of the World’s Indigenous Peoples राजस्थान का कश्मीर कहा जाता है गोरमघाट झरना राजस्थान का मेघालय के नाम से जाना जाता है : भील बेरी झरना