हम भारतीय

सब कुछ हिंदी में

बुर्ज खलीफा का मालिक कौन हैं ?

Burj khalifa ke malik kaun hai : देश व दूनिया मे कई ऐसी इमारते है जो अपने इतिहास की वजह से आज दूनिया मे अपने पैर जमाये हुई है। दूनिया मे एक ऐसी ही इमारत है जिसे बुर्ज खलीफा के नाम से जाना जाता है। 

यह बुर्ज खलीफा वर्तमान मे दुबई में स्थित 829.8 मीटर ऊंचाई वाली दुनिया की सबसे ऊंची गगनचुंबी इमारत है जिसके बारे मे आप सब जानते ही होंगे। 

इसके साथ-साथ दूनिया के और कौनो मे बुर्ज खलीफा के अलावा ऊंची फ्रीस्टैंडिंग इमारत, सबसे तेज और लंबी लंबी लिफ्ट, सबसे ऊंची मस्जिद, सबसे ऊंचे स्विमिंग पूल, दूसरे सबसे ऊंचे अवलोकन डेक और सबसे ऊंचे रेस्तरां का खिताब भी बुर्ज खलीफा के नाम है। 

163 तलों वाली दुनिया की इस इमारत मे सबसे ज्यादा तलों वाली इमारत भी है। बुर्ज खलीफा वर्तमान मे दुबई मे स्थित है। 

Ferrari ka malik kaun hain ?

बुर्ज खलीफा की विशेषता

  • आपको शायद इस बात का तो पता ही होगा की दुबई में स्थित बुर्ज खलीफा दुनिया की सबसे ऊंची बिल्डिंग है। 
  • दूबई मे बनी इस इमारत बुर्ज खलीफा की ऊंचाई 828 मीटर यानी की 2716.5 फुट है जो की दूनिया मे अब तक सबसे बड़ी ऊंचाई वाली बिल्डिंग है।
  • जब यह बनी थी तब इस बुर्ज खलीफा को बनाने में लगभग 1.5 बिलियन डॉलर का खर्चा हुआ है। 
  • दुबई मे बनी इस इमारत बुर्ज खलीफा में कुल 163 मंजिल है, जिसमें 58 लिफ्ट और 2957 पार्किंग स्पेस, 304 होटल और 900 अपार्टमेंट्स है। यह दूनिया मे सबसे शानदार इमारतों मे गिनी जाती है।
  • इस बिल्डिंग को पहले बुर्ज खलीफा को पहले बुर्ज दुबई कहा जाता था, बाद में यहां के राष्ट्रपति खलीफा बिन जायेद अल नह्हान के सम्मान में इसका नाम बुर्ज खलीफा कर दिया गया।

यह इमारत काफी विवादों के घेरे में भी रही है। देश मे अन्य कई मानवाधिकार संगठनों ने आरोप लगाया था कि इस इमारत के निर्माण में अधिकतर मजदूर दक्षिण एशिया के थे और उन्हें उस समय केवल मात्र पांच डॉलर दिहाड़ी मजदूरी दी गई थी। 

इसके अलावा इसे ठंडा रखने के लिए एसी में खर्च होने वाली बिजली पर भी सवाल उठाए गए थे जो की वास्तिवकता मे ही सवालीय है। दूबई मे बनी इस इमारत की लिफ्ट 65 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलती है और इमारत के 124वें तल पर स्थित अवलोकन डेक ‘‘एट द टॉप’’ के लेवल तक मात्र दो मिनट में ही पहुंच जाती है। 

इस अवलोकन डेक पर टेलीस्कोप से पर्यटक दुबई का नजारा देख सकते हैं। यह बात भी काफी दिलचस्प है कि इस बिल्डिंग के निर्माण के समय इस इमारत का नाम बुर्ज दुबई था लेकिन इमारत के निर्माण में वित्तीय सहायता देने वाले संयुक्त अरब अमीरात राष्ट्र के राष्ट्रपति शेख खलीफा बिन जायेद अल नाहयान के सम्मान में उद्घाटन के समय इसका नाम बुर्ज खलीफा कर दिया गया था जो की वर्तमान मे इसी के नाम से जानी जाती है। 

बनावट व विशेषताएं

पांच साल के वक्त मे बनने वाली इस मंजिल के बारे मे कुछ फैक्टस

  • दुबई मे बनी विश्व की इस सबसे बडी इमारत को बनाने मे लगे थे 5 साल, इन्हीं पांच सालों मे इस बिल्डिंग का निर्माण किया गया है। 
  • इस बिल्डिंग बुर्ज खलीफा को बनाने के लिए इसके मालिक ईमार ने इसका प्रस्ताव 2003 में दुनिया के सामने रखा था जिसका काम 2004 में शुरू कर दिया गया था और आगामी 5 साल मे इस बिल्डिंग को बना कर के तैयार भी कर दी गई।
  • दुनिया के सबसे बड़ी इमारत बुर्ज खलीफा के बनने के समय करीब 12 हजार मजदूरों ने दिन-रात काम किया था, जिसका यह बिल्डिंग परिणाम है। 
  • दुबई की शान इस इमारत को बनाने के लिए 100,000 हाथियों के बराबर कंक्रीट और 380 हवाई जहाज के बराबर एल्युमीनियम लगा था जो इस बिल्डिंग की शान है। 
  • वर्तमान मे इस बिल्डिंग बुर्ज खलीफा में एक समय में करीब 35,000 लोगों के रहने की उत्तम व्यवस्था है। 
  • इस गगन चूमी इमारत की ऊंचाई ईतनी है ही इस पर से आप तकरीबन 95 किलोमीटर दूर से भी देख सकते है यहाँ तक की इसकी चोटी से पड़ोसी देश ईरान को भी आसानी से देखा जा सकता है।
  • विश्व की सबसे बडी कही जाने वाली इस इमारत मे हर दिन लगभग 946,000 लीटर पानी को 100 किलोमीटर दूर पाइप की सहायता से पहुंचाया जाता है।
  • इस बिल्डिंग की 76वी मंजिल पे सबसे ऊंचा स्विमिंग पूल और 122 वे मंजिल पे सबसे ऊँचा  रेस्टोरेंट  ह जो इस इमारत की खूबसूरती है। 
  • दुबई की शान बुर्ज खलीफा के नाम 6 वर्ल्ड रिकॉर्ड है जिन रिकार्डस् मे सबसे ऊँची इमारत, सबसे ज्यादा मंजिल  और सबसे ऊंची लिफ्ट आदि शामिल है।
  • दुनिया की इस सबसे बडी इमारत मे 37 ऑफिस फ्लोर और 900 अपार्टमेंट है जो इसकी शान है। 
  • आपको यइ बात जान कर आश्चर्य होगा ही इस बिल्डिंग मे लगी एसी से एक वर्ष में जितना पानी निकलता है उससे ओलम्पिक के कई स्विमिंग पूल भरे जा सकते है।
  • इस बिल्डिंग बुर्ज खलीफा चारो तरफ से एक कृत्रिम झील से घिरी हुई है जो इसकी खूबसूरती को चाँद-चाँद लगा देता है।

बुर्ज खलीफा के मालिक

दूनिया मे बनी इस सबसे बडी इमारत के मालिक के नाम के बारे मे बताने से पहले आपके लिए यह जानना जरूरी है की इसको बनाने वाली कंपनी कौनसी है। दुबई मे बनी इस सबसे बडी इमारत को बनवाने वाली कम्पनी को हम Emaar Properties के नाम से जानते है। 

यह एक रियल स्टेट कम्पनी है जिसका मुख्यालय दूबई मे है जहां विश्व की सबसे बड़ी इमारत बुर्ज खलीफा भी बनी है। इस कंपनी के वर्तमान मे मुख्य कार्यकारी अधिकारी एक भारतीय है जो की अमित जैन है। 

विश्व की सबसे बडी इमारत बनाने वाली इस कंपनी को 1997 मे बनाया गया था जिसके बाद यह अपना व्यवसाय दुबई मे रियल स्टेट के क्षेत्र मे करती है। इस कम्पनी को की दुनिया की सबसे बड़ी इमारत बुर्ज खलीफा के मालिक के रूप मे जाना जाता है। इस कम्पनी को मोहमेद अलबार द्वारा बनाया गया था की स्वयं एक ईमरती व्यवसायी व उद्यमी है। 

मोहम्मद अलबर

मोहम्मद अलबर, एक अमीर व्यापारी और वैश्विक उद्यमी है। उन्हें मुख्यतौर पर एमार प्रॉपर्टीज के संस्थापक के रूप में जाना जाता है, जो बुर्ज खलीफा और दुबई मॉल जैसी बडी – बडी सम्पतियों मे निर्माणकर्ता हैं, साथ ही यह ईगल हिल्स के चेयरमैन, अबू धाबी मे स्थित निजी निवेश और रियल एस्टेट डेवलपमेंट कंपनी के मालिक भी हैं। 

एमार प्रॉपर्टीज दुनिया की सबसे बड़ी रियल एस्टेट डेवलपमेंट कंपनियों में से एक है, जिसके पास 2018 तक 6.99 बिलियन अमेरिकी डॉलर का सालाना राजस्व और अमेरिकन डाॅलर 9.7 बिलियन का मार्केट कैप है। इस कम्पनी को दुनिया की सबसे बड़ी और सबसे ज्यादा देखी जाना वाना मॉल बुर्ज खलीफा को विकसित करने के लिए जाना जाता है। 

दुबई मॉल, जो एम्मार के 500 एकड़ के प्रमुख मेगा-डेवलपमेंट डाउनटाउन दुबई का हिस्सा है, साथ ही दुबई क्रीक हार्बर मास्टर प्लान, 2,000 सीट की दुबई ओपेरा, दुबई मरीना, अमीरात हिल्स, के रूप में दुबई क्रीक टॉवर के मालिक के रूप मे भी इन्हे जाना जाता है। 

कैरियर

अपने कॉलेज के बाद, अल्बार ने सेंट्रल बैंक ऑफ यूनाइटेड अरब अमीरात के साथ बैंकिंग मैनेजर के रूप में अपना करियर शुरू किया। जिसके बाद में, अलबर को सिंगापुर में स्थानांतरित कर दिया और वहा पर वे अल खलीज इन्वेस्टमेंट्स के डायरेक्टर के रूप में दुबई सरकार के लिए काम करना शुरू किया। 

जो की सिंगापुर में महत्वपूर्ण अचल संपत्ति के हितों के साथ दुबई में एक सरकारी स्वामित्व वाली कंपनी थी। 1992 में, अल्बर वापस दुबई लौट आए और आर्थिक विकास विभाग के संस्थापक महानिदेशक के रूप में दुबई सरकार के लिए काम करना शुरू कर दिया। 

1996 में, अलबर ने दुबई शॉपिंग फेस्टिवल की शुरुआत की और इसका आयोजन भी किया जिसमें स्ट्रीट बाजार, फैशन शो, फूड फेस्टिवल, लोकगीत और बहुत कुछ द्वारा दिखाए गये थे, मनोरंजन और खरीदारी के लिए दो मिलियन से अधिक दर्शक उस समय आए थे। इसी साल अल्बर्ट को विज्ञापन आयु द्वारा उनके अंतरराष्ट्रीय मार्केटिंग सुपरस्टार ऑफ द ईयर के रूप में चुना गया जो की उनके लिए एक प्रेरणा बना। 

निष्कर्ष

इस लेख में आपको burj khalifa ka malik kaun hai के बारे में बताया गया हैं. दुनिया की सबसे बड़ी इमारत बुर्ज खलीफा वर्तमान मे दुबई मे स्थित है जो की एम्मार प्रॉपर्टीज का एक हिस्सा है। यह बुर्ज खलीफा वर्तमान मे दुबई में स्थित 829.8 मीटर ऊंचाई वाली दुनिया की सबसे ऊंची गगनचुंबी इमारत है जिसके बारे मे आप सब जानते ही होंगे। 

इसके साथ-साथ दूनिया के और कौनो मे बुर्ज खलीफा के अलावा ऊंची फ्रीस्टैंडिंग इमारत, सबसे तेज और लंबी लंबी लिफ्ट, सबसे ऊंची मस्जिद, सबसे ऊंचे स्विमिंग पूल, दूसरे सबसे ऊंचे अवलोकन डेक और सबसे ऊंचे रेस्तरां का खिताब भी बुर्ज खलीफा के नाम है। उम्मीद करते है आपको यह लेख पसंद आया होगा। 

FAQ about burj khalifa ka malik kaun hai ? 

बुर्ज खलीफा का मालिक कौन है ?

दूनिया की सबसे बड़ी इमारत बुर्ज खलीफा का मालिक Emaar Properties को माना जाता है जो की दुबई की एक कम्पनी है। 

बुर्ज खलीफा को बनने मे कितना समय लगा ?

बुर्ज खलीफा को बनने मे लगभग 5 साल का समय लगा था। 

बुर्ज खलीफा कहा स्थित है ?

बुर्ज खलीफा वर्तमान मे दुबई शहर मे स्थित है। 

एम्मार प्रॉपर्टीज का मालिक कौन है ?

एम्मार प्रॉपर्टीज का मालिक मोहमेद अलबार है, जो दुबई के एक व्यवसायी है। 

बुर्ज खलीफा कितनी मंजीला है ?

बुर्ज खलीफा 163 मंजीला इमारत है।