हम भारतीय

सब कुछ हिंदी में

सबसे अधिक उपग्रह वाला ग्रह कौनसा हैं ?

Sabse adhik upgrah wala grah जब भी पूछा जाता है तो इसके जवाब में सौर मंडल में मौजूद सबसे बड़े प्लानेट जुपिटर का नाम मुंह पर आता है। साल 2019 तक तो सभी के लिए जवाब जुपिटर प्लानेट ही हो लेकिन आज के समय में वैज्ञानिकों द्वारा किए गए सौर मंडल पर खोज ने Sabse adhik upgrah wala grah के सवाल का जवाब बदल दिया है। 

विज्ञान के क्षेत्र में हर दिन कुछ बदलाव आता रहता है। सौर मंडल को भी वैज्ञानिकों की खोज के कारण इस बदलाव से रूबरू होना पड़ता है। जैसे पहले सौर मंडल में 9 ग्रहों की बात होती थी लेकिन अब ग्रहों की संख्या 8 गिनी जाती है। 

सौर मंडल में मौजूद हर ग्रहों के पास उपग्रह हैं। इस ब्लॉग के जरिए हम सोलर सिस्टम उर्फ सौर मंडल के बारे में जानेंगे और उपग्रह क्या होता है यह भी संक्षेप में जानेंगे और यह तो जानेंगे ही कि Sabse adhik upgrah wala grah कौन सा है।

सौर मंडल क्या है?

सौर मंडल के केंद्र में सूरज होता है जो सौर मंडल में मौजूद हर ग्रहों के लिए ऊर्जा और प्रकाश पाने का साधन होता है। इसमें सूरज और खगोलीय पिंड एक दूसरे से बंधे होते हैं। सूरज और 8 गृहों को मिलाकर सौर मंडल अपनी उपस्थिति दर्ज कराता है। 

सौर मंडल के हर ग्रह के पास उपग्रह होता है, जैसे चंद्रमा पृथ्वी का उपग्रह होता है। यह उपग्रह क्या होता है जानिए।

भारत की सबसे लंबी नदी

उपग्रह क्या होता है?

उपग्रह सौर मंडल में मौजूद सभी ग्रहों के अलग अलग होते हैं। यह वह आकाशीय पिंड में गिने जाते हैं जो ग्रहों के चारों तरफ चक्र लगाते हैं। जैसे चांद धरती के चक्र लगाता है। ठीक इसी तर्ज पर अन्य ग्रहों के पास भी कई चांद मौजूद हैं जिनकी संख्या कम तो किसी ग्रहों में ज्यादा है। 

दोस्तों उपग्रहों की संख्या के मुताबिक ही Sabse adhik upgrah wala grah कौन सा है यह जानने में वैज्ञानिकों को मदद मिलती है। यह हम सभी जानते हैं की साइंस में कुछ भी पक्का नहीं है आज जो चीज मानकर चल रहे हैं वह साइंस में किसी समय पर बदलें भी जा सकते हैं। 

जैसे की पहले जुपिटर ग्रह को sabse adhik upgrah wala grah कहा जाता था लेकिन अब शनि ग्रह के पास सबसे अधिक उपग्रह हैं। जानिए कितने उपग्रह शनि ग्रह के पास हैं और कितने उपग्रह जुपिटर प्लानेट पर हैं।

जुपिटर प्लानेट के पास 79 उपग्रह था Sabse adhik upgrah wala grah

दोस्तों साल 2019 तक जुपिटर प्लानेट को सबसे अधिक उपग्रह वाला ग्रह कहा जाता था, कारण इसके पास मौजूद 79 उपग्रह। जुपिटर प्लानेट के पास मौजूद 79 चंद्रमा (उपग्रह) में से बाकी सौर मंडल में अन्य ग्रहों की तुलना में सबसे बड़ा चांद है। 

जुपिटर प्लानेट की मुख्य बातें

  • जुपिटर प्लानेट सौर मंडल में मौजूद सबसे बड़ा प्लानेट हैं।
  • जुपिटर प्लानेट का साइज पृथ्वी ग्रह से लगभग दुगना है।
  • इस ग्रह में 90 प्रतिशत हाइड्रोजन और 10 पर्सेंट हीलियम समेत कुछ पर्सेंटेज में मीथेन, अमोनिया भी मौजूद हैं।
  • इस प्लानेट में जमीन नहीं बल्कि सिर्फ गैस से बना हुआ प्लानेट हैं। 
  • यह बेहद खतरनाक ठंडा ग्रह है, यहां तापमान -145 डिग्री सेल्सियस रहता है। 
  • जुपिटर प्लानेट का नाम रोमन सभ्यता के एक देवता पर रखा गया था।
  • पृथ्वी ग्रह पर कुछ भी विनाशकारी हमले होते हैं तो उससे भी जुपिटर प्लानेट बचाता है, तभी इस प्लानेट को सोलर सिस्टम का वैक्यूम क्लीनर भी कहा जाता है।

दोस्तों जुपिटर प्लानेट के बाद सबसे अधिक उपग्रह वाला ग्रह शनि ग्रह को कहा जाता है। साल 2019 को कॉर्नेगी इंस्टीट्यूट फॉर साइंसेज के साइंटिस्ट ने शनि ग्रह पर किए गए खोज में उसके इर्द गिर्द 20 उपग्रहों को पाया जिससे आज के वक्त शनि ग्रह पर कुल 82 उपग्रह हो चले हैं हालांकि वैज्ञानिकों का मानना है की इसकी संख्या 100 तक भी जा सकती है। 

दोस्तों आइए अब हम इन खोजे गए उपग्रहों के बारे में अधिक जानते हैं। 

20 में से 17 उपग्रह घूमते हैं शनि ग्रह के उल्टी तरफ

वैज्ञानिकों का समूह जब शनि ग्रह पर उपग्रहों को तलाश रहा था तो उन्होंने पाया की शनि ग्रह पर मिले नए 20 उपग्रहों में से 17 की दिशा शनि ग्रह की दिशा से उलट चल रही थी। इन 17 उपग्रहों को शनि ग्रह की एक परिक्रमा करने पर 3 या इससे अधिक साल लग जाते हैं तो वहीं शनि ग्रह के ही दिशा में चलने वाले उपग्रहों को 2 साल तक का समय लग रहा है। 

सभी उपग्रहों का साइज है एक जैसा

वैज्ञानिकों ने अपनी खोज में यह पाया की शनि ग्रह पर मिले 20 उपग्रहों का साइज तकरीबन एक जैसा है इन सभी का डायमीटर 5 किलोमीटर है। बल्कि जुपिटर प्लानेट में मौजूद सबसे छोटा उपग्रह का डायमीटर मात्र 1.6 किलोमीटर है।

कैसे बने यह उपग्रह

वैज्ञानिकों के मुताबिक यह उपग्रह एक बड़े उपग्रह के टूटने से बना है। वैज्ञानिकों ने इस बात का भी अंदेशा जताया है की यह उपग्रह पहले से ही शनि ग्रह के चारो ओर चक्र लगाते थे।

कैसे खोजे 20 नए उपग्रह 

अमेरिका स्थित एक हवाई द्वीप पर टेलिस्कोप को सेटअप किया गया जहां से कॉर्नेगी इंस्टीट्यूट फॉर साइंसेज के वैज्ञानिकों शनि ग्रह के इर्द गिर्द घूमते इन उपग्रहों को खोजा।

F.A.Q about Sabse adhik upgrah wala grah

दोस्तों सौर मंडल से संबंधित जानकारी लोगों में काफी चर्चित रहती है। सौर मंडल के बारे में जितनी जानकारी इकट्ठी कर लो लेकिन कहीं न कहीं कम रह जाती है। उपग्रहों की संख्या के मुताबिक हम ने यह तो जान लिया की शनि ग्रह के पास 82 ग्रह है लेकिन इसके साथ कई सवाल भी जन्म लेते हैं, आइए जानते हैं इन सवालों के जवाब

सौर मंडल में कुल कितने उपग्रह हैं?

सभी ग्रहों के उपग्रह मिलाकर कुल 205 उपग्रह हैं।

पृथ्वी ग्रह पर कितने उपग्रह हैं?

पृथ्वी ग्रह के पास मात्र एक ही उपग्रह है, चांद पृथ्वी ग्रह का उपग्रह है।

कॉर्नेगी इंस्टीट्यूट फॉर साइंसेज के वैज्ञानिकों ने किनके देखरेख में खोज किया?

स्कॉट एस शेपर्ड के नेतृत्व में कॉर्नेगी इंस्टीट्यूट फॉर साइंसेज के वैज्ञानिकों ने शनि ग्रह के उपग्रहों की खोज की।

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने Sabse adhik upgrah wala grah कौन सा है यह जाना वैज्ञानिकों ने इससे पहले भी 12 उपग्रहों की खोज की थी। इस खोज के बाद से वैज्ञानिकों ने यह अंदेशा जताया है कि इन खोजे गए उपग्रहों पर अध्ययन करने पर यह पता लगाने में मदद मिलेगी की धरती कैसे बनी। ऐसे ही जानकारी के लिए हमारे साथ बने रहें।

धन्यवाद।