भारत का सबसे ऊँचा बाँध

Bharat ka sabse uncha bandh नमस्कार दोस्तों, भारत में कई प्रकार के और कई जगह बाँध देखे होंगे। क्या आपको पता हैं की भारत का सबसे ऊँचा बाँध कौनसा हैं ? अगर आप इसके बारे में नहीं जानते हैं तो आपको इस लेख में इसके बारे में काफी कुछ सीखने को मिलेगा। अंत आप इस लेख को आखिर तक पढ़े ताकि आपको इसके बारे में पूरी जानकारी मिल सके। 

बिजली पैदा करने के लिए बाँध का विशेष तौर पर इस्तेमाल होता है अगर आप भी भारत का सबसे ऊंचा बाँध कौन सा है इसे जानने के इच्छुक हैं तो इस पोस्ट में बाँध की पूरी जानकारी दी जाएगी। 

एशिया की सबसे लंबी नदी

21 वीं सदी में टेक्नोलॉजी का उपयोग हर फील्ड में बढ़ा है, क्योंकि टेक्नोलॉजी कार्य को तेजी प्रदान करता है और इसी तेजी को पाने के लिए बिजली का होना भी जरूरी हैं। दोस्तों हर देश भिन्न भिन्न जरिए से बिजली का उत्पादन करता है। 

इसका एक तरीका बाँध से बिजली उत्पादन भी है। लेकिन क्या आप जानते हैं की आखिर यह बाँध क्या है और बाँध से बिजली कैसे उत्पादन होती है। अगर नहीं तो इस पोस्ट को जरूर पढ़ें। Bharat ka sabse uncha bandh

बाँध क्या है

आसान भाषा में कहा जाए तो बाँध जल के बेहकाव को रोकने के काम में आता है यानी की नदी के जल सत्र को मैनेज करने के लिए बनाए गए दीवार को बाँध कहते हैं।

दोस्तों बाँध का मुख्य कार्य बाढ़ को आने से रोकना होता है। बाँध एक जलाशय बनाने में मदद करता है और इसी जलाशय में इकट्ठा हुआ पानी का उपयोग बिजली उत्पादन, पानी पीने के लिए, खेतों की सिंचाई के लिए होता है। 

बाँध से बिजली कैसे उत्पादन होती है 

दोस्तों हर तरह के जीव के लिए जल का काफी महत्व है तभी जल ही जीवन है ऐसा कहा जाता है। जल से ही बाँध में बिजली का उत्पादन किया जाता है। इस प्रोसेस को हाइड्रोपावर भी कहा जाता है। हाइड्रो का अनुवाद हिंदी में जल होता है। दोस्तों इसके प्रोसेस को अच्छे से समझते हैं:-

  • बाँध का स्ट्रक्चर नीचे से मोटी होती है ऊपर के तरफ पतली होती है, इसी के एक साइड पर वाटर को रिजर्व करते हैं। 
  • बाँध में टनल्स होती है जिससे पानी दूसरे जगह ट्रांसफर होता है, इसमें गुजरते हुए पानी की रफ्तार तेज होने के कारण इसमें लगे टर्बाइंस घूमने लगते हैं। 
  • विज्ञान में यह बताया गया है कि किसी भी मैग्नेटिक फील्ड के अंदर अगर कंडक्टिंग वायर को ऊपर नीचे करते हैं तो इलेक्ट्रिसिटी प्रोड्यूस होती है।
  • कंडक्टिंग वायर के तौर पर कॉइल को इस्तेमाल किया जाता है, यह टरबाइन के साथ अटैच होता है, जब पानी के बहाव से टरबाइन हिलता है तो उसके साथ कॉइल भी हिलता है। इसी से बिजली प्रोड्यूस होती है। 

भारत का सबसे ऊंचा बाँध है टिहरी बांध

दोस्तों भारत में कुल 4000 बाँध हैं सभी भिन्न भिन्न आकार के और भिन्न भिन्न कार्यों के लिए प्रयोग में लाए जाते हैं, लेकिन अगर बात भारत का सबसे ऊंचा बाँध कौन सा है इसका जवाब उत्तराखंड स्थित टिहरी बांध ही है। 

उतराखंड राज्य में टिहरी जिले में बना यह बांध कई विशेषताओं के साथ बना है जो मात्र उत्तराखंड ही नहीं बल्कि अपने पड़ोसी राज्यों की भी बिजली की भी आपूर्ति कर देता है। टिहरी बांध के कुछ रोचक तथ्य जानकर हर कोई अचंभित हो जाता है, आइए जानते हैं टिहरी बाँध के रोचक तथ्य।

टिहरी बाँध के रोचक तथ्य

दोस्तों यह तो हम जान ही गए की टिहरी बांध भारत का सबसे ऊंचा बाँध है लेकिन दोस्तों इस बाँध के साथ कई रोचक तथ्य भी इस बाँध के साथ जुड़े हुए हैं जो इसको होर भी खास बना देते हैं, यह इस बाँध की खासियतें हैं।

दुनिया का आठवां सबसे ऊंचा बाँध

एक रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया भर में कुल कई लाख बाँध मौजूद हैं, उसमें भी टिहरी बांध दुनिया का आठवां सबसे ऊंचा बाँध है। 

बनने में लगे थे कई वर्ष

दोस्तों यह कई बार कहा जाता है कि अच्छी चीजें बनने में समय लेती है, लेकिन कई बार समय इतना अधिक लग जाता है कि उसका अंदाजा लगाना भी मुश्किल रहता है। टिहरी बांध ऐसे ही चीजों में शामिल है जिसको बनने में काफी समय लगा। 

इस बांध की बनने की शुरुआत साल 1978 को हुई और इस बाँध का आरंभ 2006 में हुआ।

बांध की ऊंचाई है 260 मीटर

इस बांध की ऊंचाई 260 मीटर है जिसे फुट में कन्वर्ट किया जाए तो 855 फुट का आंकड़ा आता है। लंबाई भी इसकी काफी ज्यादा है, इसकी लंबाई 575 मीटर है। इस बांध में 2100000 एकर·फ्ट तक पानी इकट्ठा रखने की क्षमता है।

इस बांध से बनती बिजली और पेयजल उत्तराखंड, दिल्ली और उत्तर प्रदेश तक जाता है

दोस्तों टिहरी बांध में रिजर्व किए गए पानी का इस्तेमाल बिजली उत्पादन के लिए किया जाता है। इस बांध से 2400 मेगावॉट बिजली उत्पादन होती है, और इसके अलावा 2,70,000 हेक्टेयर क्षेत्र की सिंचाई इस रिजर्व्ड पानी से की जाती है। इसके साथ ही हर दिन 102 करोड़ लीटर पीने लायक पानी का भी इस बाँध के जरिए उत्पादन होता है।

यह बांध बना है इन नदियों के ऊपर

दोस्तों बाँध का कंस्ट्रक्शन नदी के ऊपर होता है, टिहरी बांध का कंस्ट्रक्शन भी भारत की दो नदियों के संगम के ऊपर बना है। इन नदियों का नाम भागीरथ और भिलंगना है। 

निष्कर्ष

दोस्तों इस पोस्ट के जरिए हमें Bharat ka sabse uncha bandh कौन सा है यह जानने को मिला, उत्तराखंड राज्य की कई खासियतों में यह खासियत भी बड़े शान से कई सालों से केवल उत्तराखंड को ही नहीं बल्कि दिल्ली, उत्तरप्रदेश को भी रोशन कर रहा है। 

दोस्तों जल का महत्व हर जीव के लिए है, हमें इसका महत्व समझना होगा। बाँध जल के महत्व को समझते हुए ही इजात किया गया, सोचिए एक बाँध में बचाया गया पानी इतने सभी फायदे लोगों को पहुंचाता है तो देश भर में बने हुए 4000 छोटे बड़े बाँध देश को कितना फायदा पहुंचाने में सक्षम है। 

ऐसे ही पोस्ट के लिए हमारी वेबसाइट पर आते रहें। 

धन्यवाद 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

International Tribal Day : Day of the World’s Indigenous Peoples राजस्थान का कश्मीर कहा जाता है गोरमघाट झरना राजस्थान का मेघालय के नाम से जाना जाता है : भील बेरी झरना