सबसे बड़ा टाइगर रिज़र्व

Follow us on Twitter to get more stuff there

Tiger reserve ( टाइगर रिज़र्व ) बढ़ती आबादी के साथ जंगल का कम होना शायद आप और हम जैसे लोगों के लिए कोई मायने नहीं रखता हो, अगर रखता भी है तो सिर्फ ग्लोबल वार्मिंग या विश्वतापन के नजरिये से ही हम उसे देखते है। पर जरा सोचिये, जंगल को अपने घर मानकर उसपे रहने वाले जानवरों का क्या हाल हो रहा होगा! औद्योगिक क्रांति तथा बढ़ती जनसंख्या को खाना मुहैया कराने के लिए जंगल साफ करके खेती करने से लाखों करोडो संख्या में जानवर बेघर हो रहे है। यह हाल सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि पूरे विश्व भर में सामान ही है।

ऐसे में सरकार तथा पर्यावरणविदों के द्वारा जंगल और उसमें बेस जानवरों के हिट के लिए कई सारे संरक्षित क्षेत्र बनाये गए है, जिनमे जानवर के साथ साथ पेड़पौधे भी इंसान के पहंच से दूर एक सुरक्षित जीवन निर्वाह कर सके।

ऐसे में बाघों के लिए भी कई सारे संरक्षित क्षेत्र का गठन दुनिया भर में किया गया है जिनमे न सिर्फ उनमे वे सुरक्षित महसूस करे बल्कि उनकी प्रजनन में भी मदद करे।

दुनिया की सभी देशों में महजूद टाइगर रिज़र्व में से The Hukaung Valley सबसे बड़ा टाइगर रिज़र्व है, जो के म्यामार के उत्तरी-पश्चिम भाग के सगैंग और काचिन डिस्ट्रिक्ट में फैला हुआ है।

पहाड़ों, जंगल और नदियों से घिरा यह इलाका बाघों को एक प्राकृतिक निवास मुहैया कराने के साथ साथ उनके प्रजनन में भी मदद करता है।

कैसे पहंचे

म्यांमार के राजधानी Nahpyidaw 743 km दूर बसा यह इलाका काफी सुनसान है। कई ज़माने में यहाँ सोने तथा एम्बर(एक तरह के कीमती पत्थर) की माइनिंग हुआ करती थी, पर अभी नहीं है। इसके पास ही कई सारे टूरिस्ट अट्रैक्शन पॉइंट होने के वजह से आप बड़े आसानी से टाइगर रिज़र्व तक पहंच सकते है।

The Hukaung Valley Wildlife Sanctuary कब बना था?

Hukaung Valley wildlife sanctuary की शुरुआत 2004 से ही हो चुकी थी। सुरुवाती दौर में सिर्फ 6371 square km में फैला यह sanctuary 2010 तक 17,373 square km तक आ पहंचा है। 

बाघों के साथ साथ इस sanctuary में आपको तेंदुआ, भैस, भालू और सम्बर हिरन के साथ साथ और कई तरह के जानवर देखने को मिल जायेंगे। प्रारंभिक तौर पे बाघों के संरक्षण हेतु बनाया गया यह sanctuary में आज लगभग 50(2013 के आंकड़ो के हिसाब से) के आसपास बाघ महजूद है। हालांकि यह काफी कम मालूम होता है, फिर भी इतने बड़े इलाके में फैले होने के कारण इनके सठीक पता लगाना बेहद ही मुश्किल भरा काम है। 

भारत का सबसे बड़ा Tiger reserve

भारत की बात करे तो आंध्रप्रदेश स्थित नागार्जुन सागर श्रीसैलम टाइगर रिज़र्व भारत का सबसे बड़ा टाइगर रिज़र्व है। 3,728 square km में फैला यह इलाका कुरनूल, गुंटूर, नालगोंडा, प्रकाशम् और महबूब नगर डिस्ट्रिक्ट में जैसे 5 डिस्ट्रिक्ट में फैला हुआ है। 

इसमें बाघों के साथ साथ भालू, तेंदुआ, भेड़िया, मगर, चित्तल हिरन, सम्बर हिरन, ब्लैकबक, गज़ेल, चिंकारा, के साथ साथ माउस डियर और कई और प्रजाति भी मिल जायेंगे।

पुरे दुनिया भर में सिर्फ 6000 के आसपास बचे बाघों से 3000 बाघ सिर्फ भारत में पाए जाते। यह शानदार बिगकेट के प्रजाति अब खतरे में है। यागर हम सब मिलकर इनके सुरक्षा के लिए कुछ नहीं किया तो यह सिर्फ किताबों में ही रह जायेंगे।

आपने क्या सीखा ?

हमे आशा है की आपको Tiger reserve ( टाइगर रिज़र्व ) विषय के बारे में दी गई जानकारी अच्छी लगी होगी। अगर आपको इस विषय के बारे में कोई Doubts है तो वो आप हमे नीचे कमेंट कर के बता सकते है। आपके इन्ही विचारों से हमें कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिलेगा।

यह भी पढ़े

भारत की सबसे लंबी नदी

Leave a Comment