Cloud Storage क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे करें?

Cloud storage kya hai

Cloud Storage क्या है ( Cloud storage kya hai ) आइए जानते हैं Cloud Storage के बारे में, Cloud Storage क्या है, Cloud Storage कितने प्रकार के होते हैं, इससे क्या लाभ है, और आदि चीजें Cloud Storage के बारे में जानेंगे.

यदि हम पुराने जमाने की बात करें तो Storage के नाम पर फ्लॉपी डिस्क (floppy disk) का प्रयोग होता था लेकिन जगह(space) की कमी के आभाव उसे और प्रयोग में नहीं लाया गया और उसका स्थान सीडी (CD) और डीवीडी (DVD) ने ले लिया।

यह थोड़े दिन तक ही प्रयोग में हुआ लेकिन इसके प्रयोग करने में हल्की दिक्कत हुई इसलिए लोगों ने इसके जगह कोई दूसरा डिवाइस खोजा और फिर फ्लैश ड्राइव या पेन ड्राइव का बहुत चर्चित  हुआ और उसके बाद अधिक स्पेस के लिए external hard drive इत्यादि आए।

लेकिन इन सभी टेक्नोलॉजी से भी लोगों की अधिक space चाहने की प्यास नहीं बुझी और इसके साथ उन्हें ज्यादा पोर्टेबिलिटी की भी जरुरत थी। इसलिए जरूरत अनुसार शोधकर्ताओं ने Cloud Storage technology का इन्वेंशन किया। यह एक ऐसी सर्विस है जहाँ आपकी डाटा को ऑटोमैटिक मेनटेन,मैनेज और बैकअप किया जाता है।

इस बेहतरीन सर्विस की मदद से यूजर्स अपने files को ऑनलाइन स्टोर कर सकते हैं, ताकि आवश्यकतानुसार वो इंटरनेट की सहायता से इसे संसार के किसी भी जगह से एक्सेस कर सकते हैं. 

Cloud Storage kya hai?

Data किसी भी बिजनेस का एक महत्वपूर्ण कंपोनेंट है। हम सभी अपने दिन-प्रतिदिन के कार्य में GB या TB डेटा के साथ काम करते हैं। और जब आप अपने पीसी में बहुत सारी फाइलें स्टोर करते हैं तो यह सबसे अधिक संभावना है कि आपका पीसी धीमा हो सकता है, जिसके परिणामस्वरूप खराब प्रदर्शन हो सकता है।  

यह वह जगह है जहां Cloud Storage अपनी आकर्षक विशेषताओं और महान क्षमताओं के साथ आता है जिसे आप अपने घर या कार्यालय के आराम से अपने PC पर बैठकर या अपने स्मार्टफोन या टैबलेट के साथ यात्रा करते समय दूर से प्राप्त कर सकते हैं।

Cloud Storage डेटा को स्टोर और रिकवर करने का एक सुविधाजनक और विश्वसनीय विकल्प है।  बाजार में कई अलग-अलग Cloud Storage सेवाएं उपलब्ध हैं। Cloud सेवा के लिए जाने से पहले, यह समझना महत्वपूर्ण है कि Cloud Storage वास्तव में क्या है और यह कैसे काम करता है।  

Cloud Storage(cloud storage) क्या है?

जब आप अपने कंप्यूटर पर फ़ाइलें archived करते हैं, तो फ़ाइलें आपकी हार्ड ड्राइव पर या किसी अन्य प्रकार के हटाने योग्य Storage मीडिया, जैसे फ्लैश ड्राइव या बाहरी हार्ड ड्राइव पर saved हो जाती हैं। 

एक विकल्प के रूप में, Cloud Storage आपकी फ़ाइलों को इंटरनेट पर भेजकर और उन्हें होस्ट करने के लिए डिज़ाइन किए गए दूरस्थ कंप्यूटर (सर्वर कहा जाता है) पर सहेज कर काम करता है।

इन सर्वरों को रिमोट फॉर्म से कनेक्ट करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। इसका मतलब है कि आप अपनी फ़ाइलों को कहीं से भी और किसी भी डिवाइस पर एक्सेस कर सकते हैं, जब तक आपके पास इंटरनेट एक्सेस है (और सेवा आपके डिवाइस का समर्थन करती है)। एक ही सर्वर कई यूजर्स के डेटा को होस्ट कर सकता है, लेकिन आप केवल अपने खाते से ही फाइलों तक पहुंच पाएंगे।

यदि सरल शब्दों में देखा जाए तो Cloud Storage एक वर्चुअल हार्ड ड्राइव की तरह है जिसे आप जब चाहें, जहां से चाहें एक्सेस कर सकते हैं।  जब तकनीक की बात आती है तो Cloud शब्द बहुत अधिक इधर-उधर फेंका जाता है, इसलिए Cloud Storage को अन्य प्रकार की Cloud-बेस्ड तकनीक के साथ भ्रमित करना आसान है।  

आइए कुछ अंतरों पर एक नज़र डालें ताकि आपको आगे समझने में मदद मिल सके।

Cloud Storage कितने प्रकार में बाटा गया है?

हर Cloud Storage यूजर को एक जैसी चीजें नहीं चाहिए या जरूरत नहीं है। इसलिए विभिन्न प्रोवाइडर्स से विभिन्न प्रकार के Cloud Storage सिस्टम उपलब्ध हैं।

प्रमुख Cloud Storage सेवाएं आपको उनके रिमोट सर्वर तक पहुंचने की अनुमति देती हैं, लेकिन आप अपना निजी Cloud Storage बनाने के लिए घर पर अपना सर्वर भी सेट कर सकते हैं।

Personal Cloud Storage

इस Cloud Storage को मोबाइल Cloud Storage के नाम से भी जाना जाता है, पर्सनल Cloud Storage एक हिस्सा है पब्लिक Cloud Storage का जिसमें की individual’s data को Cloud में स्टोर किया जाता है। 

उदाहरण स्वरूप Apple’s iCloud है।

Public Cloud Storage

पब्लिक Cloud Storage यह Storage आम इंसानों के लिए नहीं है बल्कि यहाँ बड़े बड़े एंटरप्राइज अपना डाटा स्टोर करते हैं। यहाँ एंटरप्राइज और Cloud Storage प्रोवाइडर एक साथ इंटीग्रेट होकर एंटरप्राइज डाटा सेंटर में काम नहीं करते।

गूगल ड्राइव और पीCloud जैसी सर्विसेज में पब्लिक की सेवा के लिए समर्पित डेटा केंद्रों में सर्वर के पूरे रैक हैं, जिससे वे यूजर्स अपनी फ़ाइलों को Cloud में संग्रहीत कर सकते हैं।

हमारी साइट ज्यादातर सार्वजनिक Cloud Storage प्रोवाइडर्स के लिए समर्पित है, जिसमें Sync.com जैसी सेवाएं शामिल हैं जो – जैसा कि हमारी Sync.com समीक्षा से पता चलता है – सार्वजनिक Cloud Storage के लिए हमारी नंबर एक पसंद है, हालांकि pCloud एक योग्य दूसरा स्थान रखता है।

Private Cloud Storage

इस प्रकार का Cloud Storage,इसका एक ऐसा फॉर्म हैं जहाँ की एंटरप्राइज और Cloud Storage प्रोवाइडर दोनों मिलकर या एकीकृत हो जाते हैं एंटरप्राइज डाटा सेंटर में।

निजी Cloud Storage मूल रूप से व्यवसायों के लिए व्यक्तिगत Cloud Storage है। यह वह जगह है जहां एक व्यवसाय अपना इन-हाउस Storage सर्वर स्थापित करता है। कर्मचारी कॉर्पोरेट ड्रॉपबॉक्स की तरह Cloud के माध्यम से उन सर्वरों तक पहुंच सकते हैं।

ऐसे कई कारण हैं जिनकी वजह से कोई व्यवसाय अपना निजी Cloud Storage बनाना चुन सकता है, लेकिन सबसे महत्वपूर्ण में से एक यह है कि कुछ व्यवसायों को कानूनी कारणों से साइट पर यूजर्स डेटा archived करने की आवश्यकता होती है।

प्राइवेट Cloud Storage मदद करता है किसी भी सिक्योरिटी की धमकी के against और किसी भी परफॉर्मेंस के मामले को सॉल्व करता है, इसके साथ Cloud Storage की सारी एडवांटेजेस भी देता है।

Hybrid Cloud Storage

यदि हाइब्रिड Cloud Storage देखा जाये तो यह एक संयोजक होता है पब्लिक और प्राइवेट Cloud Storage का की कुछ क्रिटिकल डाटा एंटरप्राइज के प्राइवेट Cloud में रहता है और दूसरी तरफ दुसरे डाटा को स्टोर और एक्सेस  किया जा सकता है।

हाइब्रिड Cloud Storage आपको अपने स्थानीय Storage सर्वर को सार्वजनिक Cloud Storage प्रोवाइडर के साथ संयोजित करने की अनुमति देता है। यह आपको यह चुनने देता है कि आप कौन सा डेटा स्थानीय रूप से archived करना चाहते हैं और कौन सी फ़ाइलें आप रिमोट फॉर्म से Cloud में archived करना चाहते हैं।

यह आपको दोनों दुनिया के सर्वश्रेष्ठ प्रदान करता है और कई व्यवसायों के लिए एक आदर्श समाधान हो सकता है (हमारे सर्वोत्तम हाइब्रिड Cloud बैकअप का राउंडअप देखें)।  Microsoft Azure जैसी सेवाएँ आपको अपने हाइब्रिड Cloud Storage को प्रबंधित करने की अनुमति देती हैं, जैसा कि हमारी पिछली Microsoft Azure समीक्षा में बताया गया है।

Cloud Storage के फायदे क्या है?

Flexibility and ease of access (लचीलापन और पहुंच में आसानी): Cloud Storage का मतलब है कि आपका डेटा किसी एक स्थान से जुड़ा नहीं है। अलग अलग स्टेकहोल्डर्स  बिना किसी डाउनलोड या इंस्टॉलेशन की परेशानी के अपनी पसंद के स्थान और डिवाइस से Cloud पर archived संपत्ति तक पहुंच सकते हैं।

Remote management support (दूरस्थ प्रबंधन समर्थन): Cloud Storage आंतरिक IT टीमों या प्रबंधित सेवा providers (MSP) द्वारा रिमोट मैनेजमेंट का मार्ग भी कब्जा करता है। वे साइट पर उपस्थित हुए बिना समस्या समाधान में तेजी ला सकते हैं।

Fast scalability (तेजी से मापनीयता): Cloud Storage का एक प्रमुख लाभ यह है कि आप बिना किसी अतिरिक्त बेसिक इंफ्रास्ट्रक्चर की आवश्यकता के केवल कुछ ही क्लिक के साथ नए रिसोर्सेज का प्रोविजन कर सकते हैं। जब डेटा की मात्रा में अभूतपूर्व बढ़ौतरी का सामना करना पड़ता है तो यह सुविधा व्यवसाय की निरंतरता में सहायता करती है।

Redundancy for backup (बैकअप के लिए अतिरेक): एक प्रभावी बैकअप इंस्ट्रूमेंट के लिए डेटा अतिरेक (यानी एक ही डेटा को कई स्थानों पर दोहराना) जरूरी है। Cloud सुनिश्चित करता है कि प्राकृतिक आपदा, दुर्घटना या साइबर हमले की स्थिति में आपका डेटा किसी दूरस्थ स्थान पर सुरक्षित रखा जाए।

Long term cost savings (दीर्घकालिक लागत बचत): Cloud Storage आपको हार्डवेयर डिवाइसेज, Storage फैसिलिटीज,बिजली आपूर्ति और कर्मियों की लागतों में महत्वपूर्ण रूप से बचा सकता है, जो निश्चित रूप से आपके संगठन के बढ़ने के साथ कई गुना बढ़ जाते हैं।

Cloud Storage कैसे सुरक्षित है?

सबसे पहले सर्वर को की आमतौर पर ऐसे गोदामों में स्थित होते हैं, जिन तक अधिकांश श्रमिकों की पहुंच नहीं होती है। दूसरे Cloud सर्वर पर archived फ़ाइलें एन्क्रिप्ट की जाती हैं।  इसका मतलब है कि वे हाथापाई कर रहे हैं, जिससे साइबर अपराधियों के लिए पहुंचना बहुत कठिन हो जाता है।

अंतिम शब्द

इस लेख में आपको Cloud Storage क्या है ( Cloud storage kya hai ) के बारे में. उम्मीद है इस लेख में बताई गई जानकारी आपको अच्छी लगी होगी. इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

International Tribal Day : Day of the World’s Indigenous Peoples राजस्थान का कश्मीर कहा जाता है गोरमघाट झरना राजस्थान का मेघालय के नाम से जाना जाता है : भील बेरी झरना