भारत का सबसे बड़ा एयरपोर्ट कौन सा है?

Follow us on Twitter to get more stuff there

Bharat ka sabse bada airport kaun sa hai आइए जानते है भारत के सबसे बड़े एयरपोर्ट के बारे में।रिवर्ड एयरपोर्ट्स काउंसिल इंटरनेशनल (Revered Airports Council International) द्वारा दिल्ली एयरपोर्ट को लगातार भारत में सर्वश्रेष्ठ हवाई अड्डे के रूप में सम्मानित किया गया है। दिल्ली एयरपोर्ट वैश्विक ब्रांडों के अपने कई स्टोर और रेस्तरां की एक विशाल श्रृंखला के लिए भी पसंदीदा है।

भारत का सबसे बड़ा एयरपोर्ट कौन सा है?

हवाई अड्डा तीन रनवे के साथ काम कर रहा है, जिसमें से एक देश का सबसे लंबा रनवे है, जिसकी लंबाई 4430 फीट है। IGI हवाई अड्डे के तीन टर्मिनल हैं। इसके अलावा एयरपोर्ट को भारत के सबसे बड़े एयरपोर्ट के रूप में भी मान्यता प्राप्त है।

दिल्ली में केवल एक commercial ऑपरेशन हवाई अड्डा है अर्थात इंदिरा गांधी इंटरनेशनल हवाई अड्डा जो डोमेस्टिक और इंटरनेशनल दोनों उड़ानों का संचालन करता है। इसके दो फंक्शनल टर्मिनल हैं, कुछ ड्मॉएस्टिक फ्लाइट्स के लिए T-1 और एयर इंडिया की इंटरनेशनल और डोमेस्टिक फ्लाइट्स के लिए T-3 और कुछ अन्य फ्लाइट्स जो इंटरनेशनल फ्लाइट्स भी संचालित करती हैं। अक्टूबर के अंत से शुरू होने वाली डोमेस्टिक फ्लाइट्स के लिए एक अतिरिक्त T-2 टर्मिनल को चालू किया जा रहा है। 

भारत की पूर्व प्रधान मंत्री, इंदिरा गांधी के नाम पर यह एयरपोर्ट साल 2009 के बाद से यात्री यातायात के मामले में भारत का सबसे व्यस्त हवाई अड्डा माना जाता है। यह cargo transportation के मामले में देश का सबसे busy हवाई अड्डा भी है, जो 2015 के अंत में मुंबई से आगे निकल गया।

इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा ( जिसे पहले पालम (Palam) हवाई अड्डे के रूप में जाना जाता था) नई दिल्ली से आने जाने के लिए डोमेस्टिक और इंटरनेशनल दोनों उड़ानें प्रदान करता है। यह कुछ भारतीय वायु सेना की उड़ानों का भी समर्थन करता है। 

इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट का क्षेत्रफल क्या है?

उत्तर भारत में नागरिकों के लिए प्राथमिक एविएशन सेंटर, इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा 5,106 एकड़(लगभग 20 km square) भूमि के क्षेत्र में फैला हुआ है, जो न्यू दिल्ली के शहर के केंद्र से लगभग 16 km दूर Palam में स्थित है।

भारत की पूर्व प्रधान मंत्री, इंदिरा गांधी के नाम पर यह एयरपोर्ट 2009 के बाद से यात्री यातायात के मामले में भारत का सबसे व्यस्त हवाई अड्डा माना जाता hai है। यह cargo transportation के मामले में देश का सबसे व्यस्त हवाई अड्डा भी है, जो 2015 के अंत में मुंबई से आगे निकल गया।

इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट के कुछ रोचक फैक्ट्स

यदि एयरपोर्ट किसी देश की आर्थिक प्रगति के संकेत हैं, तो भारत निश्चित रूप से विश्व मंच पर आ गया है। हम आपको IGI एयरपोर्ट के बारे में कुछ रोचक तथ्य प्रस्तुत करते हैं जिन्हें आपको निश्चित रूप से जानना चाहिए

  • दिल्ली एयरपोर्ट ने ACI ASQ बेंचमार्किंग प्रोग्राम के 300 सदस्यों द्वारा मापे गए 5 अंकों के पैमाने पर 4।90 स्कोर किया।
  • IGIA छह घरेलू वाहक, 56 अंतर्राष्ट्रीय वाहक होस्ट करता है और विशाल एयरबस A380 विमानों को संभालने की क्षमता भी रखता है।
  • इस एयरपोर्ट का प्रबंधन भारतीय एयरपोर्ट प्राधिकरण को स्थानांतरित करने से पहले भारतीय वायु सेना द्वारा संचालित किया जाता था। मई 2006 में, हवाई अड्डे का प्रबंधन दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (DIAL) को सौंप दिया गया, जो GMR समूह के नेतृत्व में एक संघ है।
  • एयरपोर्ट एक एडवांस्ड सिस्टम का उपयोग करता है जिसे एयरपोर्ट सहयोगात्मक निर्णय लेने (ए-सीडीएम) कहा जाता है ताकि टेक-ऑफ और लैंडिंग को समय पर और अनुमानित रखने में सहायता मिल सके।

इंदिरा गांधी इंटरनेशनल को पुरस्कार और सम्मान 

साल 2010 में, इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे (IGIA) को 15-25 मिलियन श्रेणी में दुनिया का चौथा सर्वश्रेष्ठ हवाई अड्डा पुरस्कार और एयरपोर्ट काउंसिल इंटरनेशनल द्वारा एशिया-प्रशांत क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ बेहतर हवाई अड्डे से सम्मानित किया गया था। 

एयरपोर्ट काउंसिल इंटरनेशनल द्वारा 2015 में 25-40 मिलियन यात्रियों की श्रेणी में हवाई अड्डे को दुनिया के सर्वश्रेष्ठ हवाई अड्डे के रूप में दर्जा दिया गया था। दिल्ली एयरपोर्ट को प्रतिष्ठित स्काईट्रैक्स वर्ल्ड एयरपोर्ट अवार्ड्स 2015 में मध्य एशिया या भारत में सर्वश्रेष्ठ हवाई अड्डे और मध्य एशिया या भारत में सर्वश्रेष्ठ हवाईअड्डा स्टाफ के लिए दो पुरस्कार भी मिले।

अंतिम शब्द

इस लेख में आपको Bharat ka sabse bada airport kaun sa hai के बारे में बताया गया है। उम्मीद है आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा।

Leave a Comment