भाग्यश्री का जीवन परिचय

Bhagyashree biography in hindi भारत की बॉलीवुड इंडस्ट्री में बहुत सारे टैलेंटेड एक्ट्रेस है जिसमे से कुछ एक्ट्रेस पुरानी हो चुकी है लेकिन उनकी एक्टिंग अभी भी लाजवाब है। उन एक्ट्रेस में एक है भाग्यश्री जो काफी खूबसूरत,आकर्षक और प्रतिभाशाली है।

भाग्यश्री (Bhagyashree): आईए जानते है इनके प्रारंभिक जीवन,कैरियर और व्यक्तिगत जीवन के बारे में और साथ ही आप इनके अवॉर्ड्स के बारे में जानेंगे।

भाग्यश्री

भाग्यश्री भारतीय अभिनेत्री से साथ साथ एक सामाजिक कार्यकर्ता है। वह हिंदी भाषा की फिल्म और टेलीविजन में अपनी भूमिकाओं के लिए काफी जानी जाती हैं। इनका पूरा नाम श्रीमंत राजकुमारी भाग्यश्री राजे पटवर्धन है।

भाग्यश्री ने अपने करियर की शुरुआत सबसे पहले फिल्म मैंने प्यार किया (1989) से किया। इस फिल्म में सुमन का किरदार निभाया और इन्हें सफलता मिली, जिसके लिए उन्हें आलोचकों की प्रशंसा मिली और इस फिल्म के जरिए इन्हें बॉलीवुड में इनके नाम से जाना गया और तब से इन्हें लगातार फिल्में करने का मौका। अपने प्रदर्शन के लिए उन्होंने सर्वश्रेष्ठ महिला पदार्पण के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार जीता। 

Bhagyashree biography in hindi
Bhagyashree biography in hindi

भाग्यश्री के करियर की शुरुआत सन 2000 के दशक से हुई, जहां वह हमको दीवाना कर गए (2006),रेड जैसी फिल्मों में भूमिका निभाने से पहले विभिन्न स्वतंत्र फिल्मों जैसे शोट्रू ढोंगशो (2002) और उथैले घुंघता चांद देखले (2006) में दिखाई दीं। अलर्ट: द वॉर विदिन (2010) और सीताराम कल्याण (2019) आदि फिल्मों में शानदार एक्टिंग करके अपने आप को बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री हाई लेवल तक ले गई।

अपनी फ़िल्मी भूमिकाओं के अलावा भाग्यश्री ने टेलीविज़न सीरीज़ स्टूडियो वन (2005) का भी निर्देशन किया और लौट आओ त्रिशा (2014- 2015) में उनकी एक प्रमुख भूमिका थी जिसके लिए उन्हें एक भारतीय टेलीविज़न अकादमी पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया था। वह एक सामाजिक कार्यकर्ता भी हैं।

भाग्यश्री का प्रारंभिक के जीवन | Bhagyashree biography in hindi

भाग्यश्री का जन्म 23 फरवरी सन 1969 में हुआ था। सौभाग्यश्री महाराष्ट्र के सांगली(Sangli) के मराठी शाही परिवार से हैं। उनके पिता विजय सिंहराव माधवराव पटवर्धन सांगली के राजा हैं और उनकी माता श्रीमंत अखंड सौभाग्यवती रानी राज्यलक्ष्मी पटवर्धन एक हाउसमेकर है। अपने बहनों में से सबसे बड़ी भाग्यश्री हैं। उनकी दो बहन मधुवंती और पूर्णिमा हैं।

भाग्यश्री की शिक्षा

भाग्यश्री को एक्टिंग करनी का बचपन से ही बड़ा शौक था। उनकी प्रारंभिक शिक्षा महाराष्ट्र में ही हुई। भाग्यश्री के पास बैचलर ऑफ कॉमर्स की डिग्री है अर्थात उन्होंने B.Com किया है।

अपने कॉलेज के दौरान भाग्यश्री डांस कला ड्रामा और गाने में अधिक रुचि रखती थी और हर कार्यक्रम में भाग लिया करती थी।

भाग्यश्री का कैरियर

भाग्यश्री ने अपने अभिनय करियर की शुरुआत साल 1987 के टेलीविजन धारावाहिक कच्ची धूप से की, जो लुइसा मे अलकॉट की लिटिल वुमन पर आधारित थी। भाग्यश्री को एक प्रसिद्ध अभिनेता-निर्देशक अमोल पालेकर द्वारा धारावाहिक में अभिनय करने के लिए संपर्क किया गया था, जिन्होंने भागश्री को इस भूमिका के लिए मौका दिया था क्योंकि मुख्य अभिनेत्री ने टीवी सेटअप को अचानक छोड़ दिया था।

भाग्यश्री को साल 1989 में व्यावसायिक रूप से सफल हिंदी फिल्म मैने प्यार किया से अपने फिल्मी कैरियर की शुरुआत की, जिसमें उन्होंने सलमान खान के साथ एक्टिंग किया। इस फिल्म में भाग्यश्री ने सुमन का किरदार निभाया था। यह उनकी अब तक की सबसे सफल और सबसे फेमस फिल्म बनी हुई है। 

हिमालय दासानी से शादी के करने के बाद उन्होंने तीन फिल्मों में एक्टिंग किया पीपत की क़ैद मैं है बुलबुल, के.सी.  बोकाडिया(डायरेक्टर) की त्यागी और महेंद्र शाह की पायल। उन्होंने साल 1993 में घर आया मेरा परदेसी फिल्म में अविनाश वधावन के साथ अच्छी एक्टिंग किया। साल 1990 के दशक में यह भाग्यश्री की आखिरी हिंदी फिल्म थी। 

भाग्यश्री की झलकियां तमिल, कन्नड़ और तेलुगु फिल्मों में भी दिखाई दी। उन्होंने फिल्म युवारत्न राणा (1998) से तेलुगु में अपनी शुरुआत की। भाग्यश्री टेलीविजन  श्रृंखला CID ​​और कभी कभी के एपिसोड में बेहतरीन एक्टिंग करती हुई भी दिखाई दीं।  

भाग्यश्री साल 2000 के दशक के मध्य में माँ संतोषी माँ (2003), हमको दीवाना कर गए (2006) और रेड अलर्ट: द वॉर विदिन (2010) में दिखाई दीं। कई वर्षों के अंतराल के बाद उन्होंने साल 2014 से 2015 तक Life Okay पर प्रसारित टीवी एपिसोड लौट आओ तृषा के साथ टेलीविजन पर वापसी कर सभी के दिलों और दिमाग में फिर से छा गई। 

साल 2019 में भाग्यश्री कन्नड़ फिल्म सीताराम कल्याण में दिखाई दीं। अभिनेत्री भाग्यश्री साल 2014 की हिंदी फिल्म 2 स्टेट्स के तेलुगु रीमेक(Telugu Remake) के साथ तेलुगु फिल्मों में फिर से अपने कैरियर को आगे ले जाने के लिए तैयार हैं। 

साल 2021 में वह आगामी रिलीज़ थलाइवी और राधे श्याम के साथ हिंदी फ़िल्मों में वापसी करती हुई देखी गई। भाग्यश्री राधे श्याम फिल्म में प्रभास की माँ की भूमिका निभाती नज़र आएंगी। 

भाग्यश्री का व्यक्तिगत जीवन

भाग्यश्री ने साल 1990 में हिमालय दसानी(Himalaya Dasani) से शादी की। हिमालया दसानी पेशे से एक सफल फिल्म निर्देशक है। उनके दो बच्चे भी है एक बेटा और एक बेटी। उनके बेटे का नाम अभिमन्यु दासानी है। 

अभिमन्यु ने साल 2019 की फिल्म मर्द को दर्द नहीं होता में अपने प्रदर्शन के लिए सर्वश्रेष्ठ पुरुष पदार्पण का फिल्मफेयर पुरस्कार जीता। उनकी बेटी का नाम अवंतिका दासानी है। श्रीमंत राजकुमारी भाग्यश्री राजे पटवर्धन (Shrimant Rajkumari Bhagyashree Raje Patwardhan) की उम्र 48 साल है।

भाग्यश्री को पुरस्कारों से मिला सम्मान

भाग्यश्री बॉलीवुड इंडस्ट्री में एक जानी-मानी अभिनेत्री जिन्होंने फिल्म टीवी सीरीज और सीआईडी(इस एपिसोड में नूपुर का किरदार निभाया) जैसे एपिसोड में बहुत नाम कमाया है। भाग्यश्री को अपनी शानदार एक्टिंग के लिए बहुत पुरस्कारों से नवाजा गया।

साल 1990 में मैंने प्यार किया फिल्म (35th फिल्मवेयर अवॉर्ड्स) के लिए इनको Best Female Debut पदवी से नवाजा गया। साल 1990 Best Actress के लिए भी भाग्यश्री को नॉमिनेटेड किया गया। साल 2014 में लौट आओ त्रिशा(इंडियन टेलिविजन अकैडमी) टीवी सीरीज के Performer of The Year –Female नॉमिनेटेड किया गया। Bhagyashree biography in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

International Tribal Day : Day of the World’s Indigenous Peoples राजस्थान का कश्मीर कहा जाता है गोरमघाट झरना राजस्थान का मेघालय के नाम से जाना जाता है : भील बेरी झरना