विश्व सामजिक न्याय दिवस कब मनाया जाता हैं ?

विश्व सामजिक न्याय दिवस ( World Social Justice Day in hindi ) नमस्कार दोस्तों, वर्तमान में सामजिक न्याय की जरूरत हर किसी को होती हैं। सामजिक न्याय का सीधा सा अर्थ हैं की किसी व्यक्ति की जरुरतो को पूरा करना इतियादी। 

क्या आप जानते हैं इन सब के लिए आखिर विश्व सामजिक न्याय दिवस क्यों मनाया जाता हैं ? अगर नही तो इस लेख में आपको इसी के बारे में बताया जाएगा। 

विश्व सामजिक न्याय दिवस कब मनाया जाता हैं ?

विश्व सामाजिक न्याय दिवस 20 फ़रवरी को मनाया जाता हैं। इस दिन को पुरे विश्व में सामजिक न्याय के दिवस के रूप में मनाया जाता हैं। 

विश्व सामाजिक न्याय दिवस | World Social Justice Day

आपने विश्व सामाजिक न्याय दिवस (World Social Justice Day) का नाम तो सुना ही होगा लेकिन यह दिवस कब मनाया जाता है क्या आपको पता है? यदि हम समाज के आधार पर न्याय की बात करे तो बहुत सारे आधारों के न्याय की बात करनी पड़ेगी। 

सामाजिक न्याय से यह अभिप्राय है कि समाज के सभी लोगो को समान आर्थिक, राजनीतिक और सामाजिक अधिकार और अवसर प्राप्त हो। सामाजिक कार्यकर्ताओं का लक्ष्य हर किसी के लिए पहुंच और अवसर के दरवाजे खोलना है खासकर उन लोगों के लिए जिन्हें सबसे ज्यादा जरूरत है। सामाजिक न्याय में आर्थिक न्याय भी शामिल है।

Also read : ग्लोबल फॅमिली दिवस

विश्व सामाजिक न्याय दिवस से हम क्या समझते है?

सामाजिक न्याय का विश्व दिवस सामाजिक न्याय को बढ़ावा देने की आवश्यकता को पहचानने वाला यह एक अंतर्राष्ट्रीय दिवस है जिसमें गरीबी, बहिष्करण, लैंगिक असमानता, बेरोजगारी, मानवाधिकार और सामाजिक सुरक्षा जैसे मुद्दों से निपटने के प्रयास शामिल हैं। 

UAN,American लाइब्रेरी एसोसिएशन और अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन सहित बहुत सारे संगठन लोगों के लिए सामाजिक न्याय के महत्व पर अपना समर्थन देते हैं। कई संगठन गरीबी, सामाजिक और आर्थिक बहिष्कार और बेरोजगारी से निपटने के लिए अधिक से अधिक सामाजिक न्याय की योजनाएँ भी प्रस्तुत करते हैं। 

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 20 फरवरी को वार्षिक रूप से मनाने का फैसला किया है, जिसे 26 नवंबर 2007 को मंजूरी दी गई है और सन 2009 में विश्व सामाजिक न्याय दिवस के रूप में शुरू किया गया। 

विश्व सामाजिक न्याय दिवस क्यों मनाया जाता है?

सामाजिक न्याय का विश्व दिवस सामाजिक न्याय को बढ़ावा देने की आवश्यकता को जानने वाला एक अंतर्राष्ट्रीय दिवस है, जिसमें गरीबी, बहिष्करण, लैंगिक समानता, बेरोजगारी, मानवाधिकार और सामाजिक सुरक्षा आदि जैसे टॉपिक से निपटने के प्रयास शामिल हैं।

जैसा की दुनिया 20 फरवरी को अंतर्राष्ट्रीय न्याय दिवस मनाती है। यह एक ऐसा दिन है जो की वंचितों और उत्पीड़ितों के लिए सामाजिक न्याय के महत्व की भी याद दिलाता है। यह राज्यों के साथ-साथ नागरिक समाज को अंतर्राष्ट्रीय न्याय प्रणाली के प्रति उनकी कमिटमेंट की आवश्यकता की याद दिलाता है।

विश्व सामाजिक न्याय दिवस कब मनाया जाता है?

समाज के हक या उनके लिय न्याय की मुहीम को बढ़ाने के लिए सामाजिक न्याय दिवस की स्थापना हुई हो की 20 फरवरी को प्रतिवर्ष विश्व सामाजिक न्याय दिवस के रूप में मनाया जाता है।

विश्व सामाजिक न्याय दिवस 2022 थीम

हर साल विश्व सामाजिक दिवस के लिए नई नई थीम प्रसारित होती रहती है। विश्व सामाजिक न्याय दिवस 2021 का थीम यह है: डिजिटल अर्थव्यवस्था में सामाजिक न्याय के लिए एक आह्वान।

इस वर्ष का याद करने वाला अंतर्राष्ट्रीय समुदाय द्वारा सफलतापूर्वक विकास, गरीबी समाप्ति, पूर्ण रोजगार और अच्छे काम को बढ़ावा देने, सामाजिक सुरक्षा, लैंगिक समानता और सामाजिक कल्याण और सभी के लिए न्याय प्राप्त करने के लिए समाधान खोजने के प्रयासों का समर्थन करता है।

विश्व सामाजिक न्याय दिवस का संक्षिप्त इतिहास क्या है?

विश्व सामाजिक न्याय दिवस का इतिहास 26 नवंबर 2007 को शुरू होता है। UN द्वारा कोपेनहेगन की घोषणा और सामाजिक विकास के लिए कार्रवाई के कार्यक्रम की समीक्षा के बाद, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 20 फरवरी को सामाजिक अन्याय के वार्षिक विश्व दिवस के रूप में घोषित किया। 

सन् 2009 में पहली बार इस दिन को मनाया गया था। बहुत सारी कमिटी गरीबी, सामाजिक और आर्थिक रोक और बेरोजगारी से निपटने के लिए अधिक से अधिक सामाजिक न्याय की योजनाएँ भी प्रस्तुत करते हैं।  

विश्व सामाजिक दिवस का इतिहास काफी लंबा क्योंकि यह दिवस बहुत सारे देशों से आपस में कनेक्ट है। अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन ने पूरी सम्मति से 10 जून 2008 को एक निष्पक्ष वैश्वीकरण के लिए सामाजिक न्याय पर ILO घोषणा को अपनाया। 

ILO के 1919 के संविधान के बाद से अंतर्राष्ट्रीय श्रम सम्मेलन द्वारा अपनाए गए सिद्धांतों और नीतियों का यह तीसरा प्रमुख बयान है। सामाजिक न्याय के पांच मुख्य सिद्धांतों में रिसोर्सेज तक पहुंच, समानता, भागीदारी, विविधता और मानवाधिकार शामिल हैं।

विश्व सामाजिक न्याय दिवस से आने वाली पीढ़ी को क्या संदेश मिलेगा?

सामाजिक न्याय की आवश्यकता के बारे में छात्रों को पढ़ाने के लिए आदर्श विषयों में बचपन की गरीबी, वैश्विक नागरिकता, मानवाधिकार और संपूर्ण विकास शामिल हैं लेकिन यह इन्हीं तक सीमित नहीं हैं। 

संयुक्त राष्ट्र और अन्य कार्यक्रमों के साथ देश द्वारा पाठों की एक श्रृंखला उपलब्ध है। ऑक्सफैम का फूड फॉर थिंक पावर पॉइंट जो छात्रों को वैश्विक खाद्य प्रणाली दिखाता है, जिसके बाद छात्रों को अपने विचार और अनुभव साझा करने का अवसर मिलता है।

जैसा की हम जान चुके है की हर साल 20 फरवरी को विश्व सामाजिक न्याय दिवस मनाया जाता है। इस उत्सव का मुख्य उद्देश्य यह है की रोजगार, सामाजिक सुरक्षा, सामाजिक संवाद, और मौलिक सिद्धांतों और काम पर अधिकारों के माध्यम से सभी के लिए उचित परिणामों की गारंटी देने पर फोकस करता है।

यह थी कुछ सामान्य जानकारी विश्व सामजिक न्याय दिवस ( World Social Justice Day ) के बारे में। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

International Tribal Day : Day of the World’s Indigenous Peoples राजस्थान का कश्मीर कहा जाता है गोरमघाट झरना राजस्थान का मेघालय के नाम से जाना जाता है : भील बेरी झरना