वर्ण किसे कहते है ?

Follow us on Twitter to get more stuff there

Varn kise kahate hain ( वर्ण किसे कहते है ? ) नमस्कार दोस्तों, वर्ण हिंदी की सबसे छोटी ईकाई होती है। हिंदी मे एक वर्ण का मतलब होता है एक अक्सर। हिंदी मे वर्ण का काफी अहम योगदान है। हिंदी मे वर्ण को दो भागों मे बांटा गया है जिसमे स्वर और व्यंजन होते है। 

इस लेख मे आपको हम वर्ण के बारे मे बताने की कोशिश कर रहे है। उम्मीद है आपको हमारा यह लेख पसंद आएगा और आपको यह जानकारी अच्छी लगेगी। 

वर्णन किसे कहते है ?

ध्वनियों के वे मौलिक और सुक्षतम रूप जिन्हे किसी भी तरह से विभाजित किया जा सकता है। हम जब भी कुछ बोलते है तो उसमे कुछ ध्वनियाँ ऐसी होती है जिसमे वर्ण शामिल होते है। 

वर्ण को उदाहरण के साथ समझे तो यह क, ख, ग, घ इत्यादि हो सकते है। इसके अलावा कुछ ऐसे भी शब्द होते है जिनको तोड़ने से उनमे से कुछ अन्य शब्द निकलते है जैसे – 

सभा = स् + अ + भ् + आ ।

वर्ण कितने प्रकार के होते है ?

वैसे तो वर्ण कई अलग – अलग प्रकार के हो सकते है परन्तु इनमे वर्ण मुख्य रूप से दो प्रकार के होते है। 

  • स्वर – स्वर वो होते है जिनका उच्चारण करते समय इस्तेमाल स्वतंत्र रूप से होता है। 
  • व्यंजन – व्यंजन वो होते है जो स्वरों की मदद से बोले जाते है। यह भी कई प्रकार के होते है। 
  • संयुक्त वर्ण – संयुक्त वर्ण होते है जो एक से अधिक व्यंजन से मिल कर बने होते है। जैसे क्ष। त्र इत्यादि।

इन दोनों प्रकारों के बारे मे विस्तार से बताया गया है आप हमारे ब्लॉग पर पढ़ सकते है। 

स्वर

हिंदी भाषा मे कुल 11 स्वर होते है जो की यह है – 

व्यंजन

हिंदी मे कुल 33 व्यंजन होते है।

  • ढ़

अंतिम शब्द

हमारे इस लेख मे आपको Varn kise kahate hain ( वर्ण किसे कहते है ? ) के बारे मे बताया गया है। उम्मीद है आपको हमारा यह लेख पसंद आय होगा। इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे।

Leave a Comment