PPS Full form हिंदी में

PPS full form : नमस्कार दोस्तों, आपने ऐसे कई शब्द सुने होंगे जिनका वास्तव में मलतब और उन शब्दों के पूरा नाम यानी full form के बारे में नही सुना होगा। 

हम आपके लिए लेकर आये हैं ऐसे ही कुछ शब्दों के बारे में जो आप अपन दैनिक जीवन में बोलने में तो इस्तेमाल करते हो परन्तु उन शब्दों का पूरा नाम आपको नही पता होता हैं। 

eRupi Full form

आपने आजकल एक term काफी तेजी से सुना होगा PPS. क्या आपको इसका मतलब पता हैं ? क्या आपको PPS का फुल फॉर्म पता हैं ? . 

क्या आप जानते हैं की PPS का पूरा नाम क्या हैं ? What is the full form of PPS ? अगर आप इस शब्द का पूरा नाम नहीं जानते तो आप इस लेख में आगे इस शब्द के बारे में पूरी जानकारी के बारे में पढ़ सकते हैं। 

इस लेख के अंत तक आपको PPS Full form के बारे में पता चल जाएगा और आप इस शब्द का मतलब भी समझ पायेंगे। 

What is the full form of PPS in hindi 

अगर आप कोई परीक्षा देते हैं तो आपको वहा भी इसके बारे में पूछा जा सकता हैं की PPS का पूरा नाम क्या हैं ? तो इस लेख को पढने के बाद आप इस सवाल का जवाब आसानी से लिख सकते हैं। 

हालाँकि इस नाम की कोई आधिकारिक फुल फॉर्म जानी नहीं हुई हैं. जैसे ही जारी होती हैं उसका अपडेट आपको दे दिया जाए. उसके अलावा जैसा हमे लग रहा हैं उसके हिसाब से इसका फुल फॉर्म यह हो सकता हैं.

PPS का पूरा नाम होता हैं प्रांतीय पुलिस सेवा जिसे अंग्रेजी में Provisional police service कहते हैं।

What is PPS ? PPS क्या होता हैं ? 

यह एक प्रकार की पुलिस सर्विस है जो केंद्र के अधीन नही रह कर राज्यों के अंतर्गत रहती हैं. यह सरकारी नौकरी से सम्बंधित हैं. 

Provisional police service को अक्सर पीपीएस के रूप में संक्षिप्त किया जाता है, यह उत्तर प्रदेश पुलिस की पुलिसिंग के लिए ग्रुप ए राज्य सिविल सेवा है। यह राज्य में भारतीय पुलिस सेवा के लिए फीडर सेवा भी है।

PPS की परिभाषा | PPS Definition 

Provisional police service को अक्सर पीपीएस के रूप में संक्षिप्त किया जाता है, यह उत्तर प्रदेश पुलिस की पुलिसिंग के लिए ग्रुप ए राज्य सिविल सेवा है। यह राज्य में भारतीय पुलिस सेवा के लिए फीडर सेवा भी है।

PPS Full Form

सरकारी विभाग के कई ऐसे विभाग होते है जिनकी हमे तनिक भी जानकारी नहीं होती इसी कारण से कई बार हम काफी शर्मिंदगी उठानी पड़ जाती है।इसी क्रम में PPS की फूल फॉर्म के बारे में जानकारी देगे लोगो के द्वारा अक्सर प्रश्न किया जाता है। इसका इंगलिश में फूल फॉर्म  “Provincial Police Service” है वहीं हिंदी में भी आपकी जानकारी बढ़ाने के लिए बताता चलता हूं इसे “प्रांतीय पुलिस सेवा” के नाम से जानते है ।

यह सरकारी पुलिस सेवा पद की पोस्ट है।इस पद में नियुक्त लोग किसी क्षेत्र विशेष में कानून व्यवस्था को बनाए रखने सहायता करता है। खासतौर पर यह उत्तर प्रदेश में civil services के नाम से प्रतियोगी छात्र जानते है। 

यह अपने से जुड़े कार्य को संपन्न करने के लिए अखिल भारतीय सेवाओ में से मुख्य तीन फीडर सेवाओ में से एक आती है। पीपीएस अधिकारियों का कार्य कानून को आदेश बनाये रखने के लिए कानून को लागू करने के अलावा अपराध को रोकने और पता लगाने के लिए कई तरह के लिए इस पोस्ट के लोगो की जरूरत होती है इसके अन्तर्गत निकाली गई पोस्ट में सर्कल, डिस्ट्रिक्ट एंड जोनल और स्टेट लेवल है।

प्रांतीय पुलिस सेवा को उत्तर प्रदेश पुलिस सेवा के नाम से भारतीय नागरिक जानते है। PPS स्थापना सन् 1858 में उत्तर प्रदेश प्रांतीय पुलिस सेवा के प्रारंभ की गई थी।प्रांतीय पुलिस सेवा की भर्ती सिविल सेवा परीक्षा के द्वारा उम्मीदवार का चयन होता है। इसकी भर्ती हर साल SSC के द्वारा आयोजित करवाई जाती है।

प्रांतीय पुलिस सेवा के अनेकों कार्य क्षेत्रीय स्तर तक सीमित रहते हैं, जिनके मुख्य कर्तव्य में से राज्य कानून प्रवर्तक को बनाए रखने के अलावा राज्य अपराध की जांच करने के साथ उस पर कार्यवाही करना आदि शामिल है। राज्य सुरक्षा खुफिया और राज्य लोक व्यवस्था को कानूनी रूप से बनाए रखना आदि इनके मुख्य कर्तव्यों में से एक है।

PPS अधिकारी के मूलभूत कार्य

पीपीएस का कार्य न केवल सार्वजनिक शांति को बनाए रखने के लिए उत्तरदाई है बल्कि खुफिया कार्य को करने जैसे कि आतंकवाद की रोकथाम , नशीले पदार्थों की तस्करी करना और वीआईपी सुरक्षा प्रदान करने का कार्य भी पीपीएस अधिकारियों के हाथों में होती है इसके अलावा PPS अधिकारी के मुख्य कार्य है जो कि नीचे दिए गए है।

  • सीमा की जिम्मेदारियों के आधार पर सार्वजनिक शांति और व्यवस्था के रखरखाव के प्रति उत्तरदाई होना।
  • अपराध को रोकने जांच और उसका पता लगाना खुफिया तौर पर संग्रह करने के अलावा वीआईपी सुरक्षा आतंकवाद को रोकना सीमा पोलिसिंग और रेलवे पोलिसिंग जैसे कार्यों के लिए इनका अहम रोल होता है।
  • तस्करी और मादक पदार्थों की तस्करी से निपटने के क्षेत्रों में आर्थिक अपराध को रोकने में सहयोग करना इसके अलावा सार्वजनिक जीवन में भ्रष्टाचार पर लगाम लगाना और आपदा प्रबंधन आदि के लिए पीपीएस के अधिकारी उत्तरदाई होते हैं।
  • सामाजिक- आर्थिक कानून के प्रवर्तन करने का जिम्मा, और जैव -विविधता के अलावा पर्यावरण कानूनों का संरक्षण आदि के लिए प्रांतीय पुलिस सेवा जिम्मेदार माने जाते हैं।
  • अपराध शाखा- अपराधिक जांच विभाग ,राज्य खुफिया ब्यूरो आदि के नेतृत्व और कमान करने का कार्य भी प्रांतीय पुलिस सेवा का ही होता है.

लोगों के अंदर साहस ईमानदारी और समर्पण के साथ उनकी मजबूत भावना के साथ बल का नेतृत्व करना भी इन्हीं की जिम्मेदारी होती है।

निष्कर्ष

इस लेख में आपको PPS फॉर्म फॉर्म के बारे में बताया गया हैं। उम्मीद करते हैं आपको यह लेख पसंद आया होगा। 

Leave a Comment