Mool Niwas Certificate Download Rajasthan | मूल निवास प्रमाण पत्र कैसे बनवाए

Mool Niwas Certificate Download Rajasthan राजस्थान के अलावा और भी सभी राज्यों में मूल निवास आज एक जरुरी दस्तावेज बन चूका हैं.

मूल निवास भी उतना ही जरूरी है जितना जन्म प्रमाण पत्र, ऐसे में यह भी जरुरी हैं की मूल निवास प्रमाण पत्र कैसे बनाया जाए और इसके बारे में जाना जाए. 

अगर आप राजस्थान राज्य के निवासी हैं और राजस्थान में मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाना चाहते हैं तो मुझे लगता हैं की आप सही जगह पर आए हैं. 

इस लेख में आपको मूल निवास प्रमाण पत्र राजस्थान के बारे में बताया जाएगा.

अंत आप इस लेख को अंत तक पढ़े ताकि आपको इस विषय के बारे में पूरी जानकारी मिल सके. 

लेख का विषयराजस्थान मूल निवास प्रमाण पत्र
राज्यराजस्थान
भाषाहिंदी
लाभार्थीराजस्थान के मूल निवासी

Table of Contents

मूल निवास प्रमाण पत्र राजस्थान ( Mool Niwas praman patra Rajasthan ) 

राजस्थान में मूल निवास प्रमाण पत्र एक काफी जरूरी दस्तावेज हैं और इसे बनाने के लिए आपको कुछ जरुरी दस्तावेजों की भी आवश्यकता होती हैं. 

अगर आप इस प्रमाण पत्र को बनवाना चाहते हैं आपको इस बात की जानकारी होनी चाहिए की मूल निवास प्रमाण पत्र राजस्थान बनवाने के लिए किन जरुरी दस्तावेजों की आवश्यकता होती हैं. 

Mool Niwas Certificate Download Rajasthan

मूल निवास प्रमाण पत्र के लिए आवश्यक दस्तावेज ( Mool Niwas praman patra ke liye avashyak dastavej ) 

राजस्थान में मूल निवास पत्र बनवाने के लिए आपको कुछ इन जरुरी दस्तावेजो को आवश्यकता होती हैं.

इस दस्तावेजों की सूची आगे बताई गई है. 

  • आवेदन करने हेतु आवेदन पत्र
  • आवेदन करने वाले का एक पहचान का दस्तावेज जैसे आधार कार्ड और लाइसेंस इतियादी. 
  • आवेदक के परिवार का राशन कार्ड. 
  • आवेदक का एक नया फोटो 
  • आवेदक के परिवार का किसी एक का मूल निवास प्रमाण पत्र 
  • अगर परिवार के किसी सदस्य का मूल निवास प्रमाण पत्र नहीं है तो आपको फॉर्म के साथ 10 साल पुराना पते का प्रमाण देना होता है. 
  • आवेदक का आधार कार्ड 

मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने के लिए पात्रता ( Mool niwas praman patra banwane ke liye patrta )

राजस्थान में मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने लिए कुछ निम्न पात्रता हैं

  1. आवेदक जो मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाना चाहता हैं वो राजस्थान का मूल निवासी होना चाहिए. 
  2. अगर उसके पिता राजस्थान के मूल निवासी हैं तो भी वह राजस्थान का ही मूल निवासी माना जाता है.  
  3. आवेदक जिस जिले और गांव से निवास करता हैं. वह वही से अपना मूल निवास प्रमाण पत्र बनवा सकता हैं.

मूल निवास प्रमाण पत्र की आवश्यकता ( Mool niwas ki avashyakta ) 

राजस्थान में मूल निवास की आवश्यकता वैसे तो कई जगह पर पड़ती हैं पर कुछ ख़ास जगह पर जहा इसकी आवश्यकता होती हैं वो निम्न हैं – 

  1. किसी स्कूल, कॉलेज या अन्य किसी संस्थान में प्रवेश लेने के लिए मूल निवास आवश्यक हैं. 
  2. किसी सरकारी नौकरी का लाभ लेने के लिए भी मूल निवास प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती हैं. 
  3. राजस्थान में छात्रवृत्ति का फायदा लेने के लिए भी मूल निवास प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती हैं. 
  4. राजस्थान में किसी सरकारी योजना का फायदा लेने के लिए भी मूल निवास प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती हैं. 

मूल निवास फॉर्म राजस्थान ( mool niwas form rajasthan )

राजस्थान में मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने के लिए अगर आपको मूल निवास फॉर्म की आवश्यकता है तो आप आगे बताये गये

इस लिंक के माध्यम इस फॉर्म को डाउनलोड कर सकते हैं. Download Mool Niwas Form Rajasthan

इस ऊपर बताये गये लिंक से आप फॉर्म का पीडीऍफ़ डाउनलोड कर सकते हैं और

इस फॉर्म का प्रिंट लेकर उसे भर कर उसके साथ जरुरी दस्तावेज लगा कर राजस्थान में मूल निवास प्रमाण पत्र बनवा सकते हैं. मूल निवास प्रमाण पत्र download pdf Mool Niwas Certificate Download Rajasthan

मूल निवास प्रमाण पत्र कैसे बनवाए ( Mool niwas praman patra kaise banwaye ) 

राजस्थान में मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आपको कुछ आसन से प्रोसेस को फॉलो करना होता है.

राजस्थान में मूल निवास प्रमाण पत्र बनाने यह निम्न प्रोसेस हैं – 

  • पहला चरण – सबसे पहले आपको मूल निवास प्रमाण पत्र का फॉर्म डाउनलोड और प्रिंट करना होता है. 
  • दूसरा चरण – इसके बाद इस फॉर्म को भरना होता हैं और इस फॉर्म के साथ जरुरी दस्तावेजों को लगाना होता है. 
  • तीसरा चरण – जो भी दस्तावेज आप लगते हैं उन पर आपको अपने स्वयं के हस्ताक्षर करने होते हैं साथ ही फार्म पर भी हस्ताक्षर करने होते हैं जहां पर मांगे जाते हैं. 
  • चतुर्थ चरण – उसके बाद इस फॉर्म को लेकर आपको अपने नजदीकी ई-मित्र पर जाना होता है जहां पर अपने फॉर्म को जमा करवाना होता है. 
  • ंचम चरण – इस फॉर्म को वहा जमा करवाने के बाद वो इस फॉर्म को ऑनलाइन करते हैं उसके बाद एक रेफरेंस नंबर मिलता है जिसे आप ई-मित्र से प्राप्त कर सकते हैं. 
  • ठा चरण – फॉर्म ऑनलाइन करने के बाद अगर आपके दस्तावेज सही पाए जाते हैं तो अगले 2 दिनों में आपका प्रमाण पत्र बन कर तैयार हो जाता है जिसे आप ई-मित्र से प्राप्त कर सकते हैं.

राजस्थान मूल निवास ऑनलाइन चेक ( mool niwas online check rajasthan ) 

राजस्थान मूल निवास ऑनलाइन चेक करने के लिए आपको कुछ आसान से

प्रोसेस को फॉलो करना होता हैं जो इस प्रकार निम्न है – 

  • र्स्ट चरण – सबसे पहले आपको ई-मित्र से वो रेफ़रन्स नंबर लेने होते हैं जो मूल निवस फॉर्म को ऑनलाइन करने के बाद मिले थे. 
  • सेकंड चरण – उसके बाद आपको ई-मित्र की आधिकारिक वेबसाइट पर आना होता है. 
  • थर्ड चरण – इस पेज पर आने के बाद आपको यहां पर अपना रिफरेन्स नंबर Transaction नंबर वाले कॉलम में डालना होता है और साथ में कैप्चा कोड भी भरना होता है उसके बाद search पर क्लिक करके आप अपने प्रमाण पत्र का स्टेटस चेक कर सकते हैं. Mool Niwas Certificate Download Rajasthan

मूल निवास बनवाने का क्या चार्ज है ? ( Mool niwas banwane ka kya charge hai )

राजस्थान में अगर आप मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको सबसे कम शुल्क जो की 40 रुपये है, देना होता है. इस सरकारी शुल्क हैं. 

मूल निवास सर्टिफिकेट Rajasthan

राजस्थान राज्य में मूल निवास बनाने और उसे डाउनलोड करने के लिए आप ऑनलाइन ई-मित्र पोर्टल की सहायता ले सकते हैं. यह सर्टिफिकेट बनाने के लिए आप राजस्थान में किसी भीई-मित्र पर भी जाकर बनवा सकते हैं.

मूल निवास प्रमाण पत्र राजस्थान status

मूल निवास प्रमाण पत्र का स्टेटस देखने के लिए आप ई-मित्र की वेबसाइट पर जाकर उसे चेक कर सकते हैं. इसके लिए आपको इस वेबसाइट पर जाना होता हैं. जहा से आप ऑनलाइन स्टेटस चेक कर सकते हैं.

निष्कर्ष ( Nishkarsh ) 

इस लेख में आपको राजस्थान के मूल निवास प्रमाण पत्र के बारे में बताया गया हैं और साथ ही यह कैसा बनाया जाता है के बारे में भी बताया गया है. उम्मीद करते हैं आपको यह लेख पसंद आया होगा. 

FAQ

मूल निवास प्रमाण पत्र कैसे डाउनलोड करे ? 

मूल निवास प्रमाण पत्र डाउनलोड करने के लिए आप ई-मित्र पोर्टल की सहायता ले सकते हैं. 

how to download mool niwas certificate rajasthan

मूलनिवास प्रमाण पत्र डाउनलोड के लिए आपको ई-मित्र की वेबसाइट पर जाना होता हैं.

Leave a Comment