हम भारतीय

सब कुछ हिंदी में

ITI का पूरा नाम क्या हैं ?

ITI ka full form नमस्कार दोस्तों, हम रोजाना ऐसी कई चीज़ों और विषय के बारे में पढ़ते हैं जो हमारे लिए बेहद जरुरी होता हैं. ऐसा ही एक टॉपिक हैं ITI का पूरा नाम ? इस लेख में आपको इसके बारे में बताया जाएगा.

ITI ka full form

ITI का फुल फॉर्म Industrial Training Institute होता हैं. यह इसकी ऑफिसियल फुल फॉर्म हैं जिसके बारे में हम सब सामान्य तौर पर पढ़ते हैं.

ITI

दोस्तो कहीं आप कन्फ्यूज तो नही हो रहे IIT  और ITI को लेकर तो आइए हम आपकी कन्फ्यूजन दूर करते है इस कंटेंट के द्वारा हम आपको ITI के बारे में बताएंगे है। ITI पाठ्यक्रम (औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान पाठ्यक्रम) ऐसे पाठ्यक्रम हैं. 

जो टेक्नोलॉजी और नॉन टेक्नोलॉजी क्षेत्रों के लिए ट्रेनिंग प्रदान करते हैं। ITI पाठ्यक्रमों को अन्य शैक्षणिक पाठ्यक्रमों से जो अलग करता है, वह यह है कि इनका उद्देश्य कक्षा 10 वीं या 12 वीं के ठीक बाद तेजी से रोजगार के अवसर प्रदान करना है।  

औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान(ITI) सन् 1950  में 71 साल पहले भारत में स्थापित किया गया। इसका मुख्य उद्देश्य कौशल विकास पर ध्यान केंद्रित करने के लिए था। ITI (Industrial Training Institutes) के लिए जाना जाता है। ये संस्थान प्रशिक्षण महानिदेशालय (DGT), कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय और केंद्र सरकार के अधीन कार्य करते हैं।

ये संस्थान विज्ञान में माध्यमिक स्तर की शिक्षा पूरी करने के बाद industrial और technical प्रशिक्षण प्रदान करते हैं। लगभग हर राज्य अलग अलग टेक्निकल और नॉन टेक्निकल ट्रेडों या स्ट्रीम, जैसे मशीनिस्ट, वेल्डर, फिटर, फुटवियर मेकर आदि में औद्योगिक प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए अपनी स्वयं की आईटीआई प्रवेश परीक्षा आयोजित करता है।

यूपी में यह परीक्षा राज्य व्यावसायिक प्रशिक्षण परिषद द्वारा अपने स्वयं के सहायता प्राप्त और निजी स्वामित्व वाले और संचालित प्रशिक्षण केंद्रों और संस्थानों में अलग अलग ट्रेडों में प्रवेश के लिए आयोजित की जाती है।

आईटीआई परीक्षा के लिए योग्यता क्या है?

इन एग्जाम्स के लिए eligible होने के लिए एक कैंडिडेट्स के लिए न्यूनतम एलिजिबल मानदंड न्यूनतम 14 वर्ष की आयु प्राप्त करना है और इंजीनियरिंग और तकनीकी ट्रेडों के लिए विज्ञान में कक्षा 10 वीं और नॉन टेक्निकल ट्रेडों के लिए कक्षा 8 वीं पूरी करना है। आवेदकों के लिए कोई ऊपरी आयु सीमा नहीं है।

छात्रों को दिए जाने वाले पाठ्यक्रम 1 से 2 वर्ष के बीच होते हैं। इन पाठ्यक्रमों में अन्य पारंपरिक स्नातक पाठ्यक्रमों की तुलना में कम समय में अधिक रोजगार क्षमता के कारण आवेदकों की संख्या में बढ़ौतरी देखी गई है।

नए सेशन के शुरू होने से पहले ITI प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो जाती है। इस योजना के तहत सेशन 1 अगस्त से शुरू होते है। NCVT guidelines के तहत ITI में प्रवेश योग्यता आधारित या लिखित परीक्षा के आधार पर किया जाता है। प्राइवेट ITI colleges में प्रवेश सीधे लिया जाता है। 

ITI में कितने Scope है ?

ITI M Group और G Group में प्रवेश के लिए दो प्रकार के trade organized करता है और इन ग्रुप में बहुत सारे trade भरे पड़े है। कुछ ट्रेड को पूरा करने के लिए 2 साल की जरूरत पड़ती है और कुछ को 1 साल की जरूरत पड़ती है।

कुछ scope नीचे दिए गए है।

  • Building Maintenance
  • Electronics Mechanic
  • Excavator Operator (Mining)
  • Mechanic Repair & Maintenance of Two Wheeler’s
  • Mechanic Auto Electrical and Electronics
  • Sanitary Hardware fitter
  • Architectural Assistant
  • Carpenter
  • Domestic Painter
  • Foundry man Technician
  • Gold Smith
  • Industrial Painter
  • Interior Decoration and Designing
  • Marine Engine Fitter
  • Mason (Building Constructor)
  • Mechanic Repair & Maintenance of Heavy Vehicles
  • Mechanic Repair & Maintenance of Light Vehicles
  • Mechanic Diesel Engine
  • Mechanic (Tractor)
  • Mechanic Communication Equipment Maintenance
  • Mechanic Lens or Prism Grinding
  • Physiotherapy Technician
  • Plastic Processing Operator
  • Plumber
  • Pump Operator-cum-Mechanic
  • Rubber Technician
  • Sheet Metal Worker
  • Stone Mining Machine Operator
  • Stone Processing Machines Operator
  • Welder (Gas and Electric)
  • Attendant Operator (Chemical Plant)
  • Draftsman (Civil)
  • Draftsman (Mechanical)
  • Electrician
  • Electroplater
  • Fitter
  • Instrument Mechanic

शिक्षुता प्रशिक्षण योजना |Apprenticeship Training Scheme

आपका ITI पूरा होने के बाद जो ट्रेडमैन होते है वो अलग अलग industries में Apprenticeship Training ले सकते है।

ITI की फाइनल परीक्षा के दौरान यानी AITT में उपस्थित होने वालों के लिए Apprenticeship Training की ड्यूरेशन आम तौर पर एक वर्ष होती है। जो फ्रेशर्स है उनके लिए आमतौर पर तीन साल लगते हैं। Training के दौरान  trainees को मासिक आधार पर वजीफा भी दिया जाता है।

National trade सर्टिफिकेट के साथ कम से कम 2 साल का ITI कोर्स पास करने वालों को Polytechnic Diploma में 2nd year में सीधे लेटरल एंट्री के लिए जाने का मौका दिया जाता है। जो लेटरल एंट्री होती है वो VOCLET के रूप में जानी जाने वाली प्रवेश परीक्षा के द्वारा होती है जो की हर साल होती है।

यह थी कुछ सामान्य जानकारी ITI ka full form के बारे में. उम्मीद हैं आपको पसंद आया होगा.