चाँद पर सबसे पहले कौन गया था? सबसे पहले कदम किसने रखा?

Chand par kaun gya tha

चाँद पर कौन गया था ( Chand par kaun gya tha ) नमस्कार दोस्तों, जिसकी हम जानते है की दुनिया में आज कई ऐसे अविष्कार को खोज हुई है जिसमे यह पहले ही पता लगाया जा चूका है की चाँद पर कितना पानी है या चाँद पर क्या है? इत्यादि। 

भारत में प्राचीन समय में भी कई ऐसे खगोलशास्त्री हुए है जिन्होंने हजारों साल पहले ही चाँद और पृथ्वी और चाँद और सूर्य की दूरी बता दी थी जिसे आज विज्ञान भी सत्य मानता है। पर क्या आपको पता है की चाँद पर कौन गया था? मतलब यह है की चाँद पर कैसे कौन गया था? 

आईये जानते है इसके बारे में पूरी जानकारी विस्तृत रूप से ताकि आपको इसके बारे में पूरी जानकारी मिल सके। 

चाँद पर कौन गया था?

चाँद पर पहले कौन गया था? इसके बारे में काफी कुछ इन्टरनेट की दुनिया पर उपलब्ध है। कई विशेषज्ञो की माने तो चाँद पर पहला कदम अमेरिका के नील आर्मस्ट्रांग ने रखा था। इन्होने सबसे पहले चाँद की सतह पर अपना कदम रखा था। 

नील आर्मस्ट्रांग जो की अमेरिका के एक वैज्ञानिक है इन्होने साल 1969 में चाँद की यात्रा एक मिशन के दोहरान की थी। नील आर्मस्ट्रांग ने अपोलो 11 मिशन के तहत चाँद पर पहला कदम रखा था। 

यह मिशन अमेरिका की स्पेस एजेंसी नासा के द्वारा आयोजित किया गया था। इसके बाद भी कई तरह के मिशन इस संस्थान द्वारा किये गये थे जिसमे से ज्यादातर मिशन में उन्हें सफलता मिली है। 

चाँद पर अपोलो 11 मिशन के तहत जाने वाले वैज्ञानिक

नासा द्वारा साल 1969 ने आयोजित किया जाने वाला यह मिशन एक ऐसा मिशन था जिसमे अमेरिका के तीन वैज्ञानिकों को चाँद की सतह पर जाने का मौका दिया गया था ताकि वे अमेरिका में चाँद की सतह पर होने वाली घटनाओं के बारे में पता लगा सके। उस मिशन में यह तीन लोग गये थे – 

  • नील आर्मस्ट्रांग
  • एल्ड्रिन 
  • माइकल कॉलिंस 

इन तीनों से अपोलो 11 मिशन के तहत चाँद की यात्रा की थी जिसमे इन्होने कई तरह की खोजों को अंजाम दिया और कई तरह की जानकारी दुनिया तक पहुचाई।

अंतिम शब्द

इस लेख में आपको चाँद पर कौन गया था ( Chand par kaun gya tha ) के बारे में बताया गया है। उम्मीद है आपको यह लेख पसंद आया होगा और यह जानकारी अच्छी लगी होगी। इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

International Tribal Day : Day of the World’s Indigenous Peoples राजस्थान का कश्मीर कहा जाता है गोरमघाट झरना राजस्थान का मेघालय के नाम से जाना जाता है : भील बेरी झरना