ऊंट पर 10 लाइन हिंदी में

10 lines on camel in hindi

ऊंट पर 10 लाइन हिंदी में ( 10 lines on camel in hindi ) रेगिस्थान का जहाज के नाम से जाना जाने वाला ऊंट हमे आसपास कई बार देखने को मिलता होगा।ऊंट को दूर से ही देख के पहचाना जा सकता है, इसका कारण है उसकी ऊँची गाबड। ऊंट के बारे में कुछ जानकारी आपको हम यहाँ और दे रहे है।

यहाँ हम आपको ऊंट से जुडी 10 लाइन के बारे में बताने जा रहे है। यह 10 लाइन 10 lines on camel in hindi for class 4, 10 lines on camel In Hindi for Class 4 & 5, 10 lines on camel in hindi for class 2 को ध्यान में रखते हुए लिखी गई है।

ऊंट पर 10 लाइन ( 10 lines on camel in hindi )

  • ऊंट को रेगिस्थान का जहाज के रूप जाना जाता है। 
  • यह ज्यादातर रेगिस्तानी ईलाके में पाए जाते है। 
  • ऊंट बिना पानी पिए कई दिनों तक रह सकता है। 
  • जहा कोई जानवर, रेगिस्थान में आसानी से चल नही सकता है उस रेगिस्थान में ऊंट आसानी से दौड़ सकता है। 
  • ऊंट की गर्दन लम्बी होती है। 
  • ऊंट बिना पानी और खाए पिए कितने दिन ही रह सकता है। 
  • ऊंट की पीठ पर एक बहुत बड़ा भाग होता है जिसे कूबड़ कहते है। 
  • ऊंट गर्म और सूखे स्थान में रहना पसंद करता है। 
  • ज्यादातर ऊंट राजस्थान और गुजरात में पाए जाते है। 
  • ऊंट का उपयोग मुख्य रूप से यातायात के लिए किया जाता है।

ऊंट पर 10 वाक्य ( Camel par 10 vakya )

  • ऊंट को रेगिस्थान का जहाज के रूप जाना जाता है। 
  • यह ज्यादातर रेगिस्तानी ईलाके में पाए जाते है। 
  • जहा कोई जानवर, रेगिस्थान में आसानी से चल नही सकता है उस रेगिस्थान में ऊंट आसानी से दौड़ सकता है। 
  • ऊंट की गर्दन लम्बी होती है। 
  • ज्यादातर ऊंट राजस्थान और गुजरात में पाए जाते है। 
  • ऊंट का उपयोग मुख्य रूप से यातायात के लिए किया जाता है।
  • ऊंट गर्म और सूखे स्थान में रहना पसंद करता है।
  • ऊंट बिना पानी और खाए पिए कितने दिन ही रह सकता है। 
  • ऊंट की पीठ पर एक बहुत बड़ा भाग होता है जिसे कूबड़ कहते है। 
  • ऊंट बिना पानी पिए कई दिनों तक रह सकता है। 

अंतिम शब्द

इस लेख में आपको हमने ऊंट पर 10 लाइन हिंदी में ( 10 lines on camel in hindi ) के बारे में बताया गया है। उम्मीद है आपको यह लेख पसंद आया होगा। इसे आप शेयर जरुर करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

International Tribal Day : Day of the World’s Indigenous Peoples राजस्थान का कश्मीर कहा जाता है गोरमघाट झरना राजस्थान का मेघालय के नाम से जाना जाता है : भील बेरी झरना